आईसीसी प्रतिबंध के बाद स्ट्रीक ने मांगी माफी और पूरी जिम्मेदारी ली
आईसीसी प्रतिबंध के बाद स्ट्रीक ने मांगी माफी और पूरी जिम्मेदारी लीSocial Media

आईसीसी प्रतिबंध के बाद स्ट्रीक ने मांगी माफी और पूरी जिम्मेदारी ली

हीथ स्ट्रीक ने आईसीसी की ओर से उन पर आठ साल का प्रतिबंध लगाए जाने के बाद माफी मांगी है और अपनी हरकतों की पूरी जिम्मेदारी ली है, लेकिन मैच फ़िक्सिंग में शामिल होने से इनकार किया है।

राज एक्सप्रेस। जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान एवं राष्ट्रीय टीम के कोच हीथ स्ट्रीक ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की ओर से उन पर आईसीसी की भष्ट्राचार निरोधक संहिता के उल्लंघन को लेकर आठ साल का प्रतिबंध लगाए जाने के बाद माफी मांगी है और अपनी हरकतों की पूरी जिम्मेदारी ली है, लेकिन मैच फ़िक्सिंग में शामिल होने से इनकार किया है।

47 वर्षीय स्ट्रीक ने 2016-2018 के बीच जिम्बाब्वे और विभिन्न फ्रेंचाइजियों का कोच रहते हुए उन पर लगे पांच आरोप स्वीकार किए हैं। स्ट्रीक ने एक बयान में कहा, '' मैं अपने परिवार, दोस्तों, क्रिकेट प्रेमियों और अपने सभी साथियों से तहे दिल से माफी मांगता हूं, जिन्होंने वर्षों तक ट्रायल और विभिन्न समस्याओं के दौरान मेरे लिए प्यार और समर्थन दिखाया।

मैं रिकॉर्ड में दर्ज करना चाहता हूं कि मैं किसी मैच फिक्सिंग या स्पॉट फिक्सिंग में शामिल नहीं था और न ही मैंने मैच के दौरान खेल को प्रभावित करने या चेंज रूम से जानकारी साझा करने का प्रयास किया था। मुझे उम्मीद है कि मेरे द्वारा जाने-अनजाने में हुए गलत कामों को स्वीकार करना वर्तमान और भविष्य के हितधारकों के लिए एक उदाहरण पेश करेगा। आंखें खुलने के बाद मुझे विशेष रूप से अपने पद तथा उन सभी सूचनाओं और विचारों को लेकर सावधान रहना चाहिए जो मेरे लिए निजी हैं।"

अपने 12 साल के करियर में 455 अंतरराष्ट्रीय विकेट लेने वाले स्ट्रीक ने जिम्बाब्वे में टी-20 लीग की स्थापना के संबंध में आईसीसी के फैसले के कुछ पहलुओं को स्वीकार किया है, हालांकि उन्होंने कहा है कि वह नहीं जानते थे कि वह जिस व्यक्ति के साथ संपर्क में थे वह ऑनलाइन सट्टेबाजी से जुड़ा हुआ था।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co