दूसरे टेस्ट में टॉस के ज्यादा मायने नहीं थे: विराट
दूसरे टेस्ट में टॉस के ज्यादा मायने नहीं थे: विराटSocial Media

दूसरे टेस्ट में टॉस के ज्यादा मायने नहीं थे: विराट

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट मैच में मंगलवार को 317 रन की बड़ी जीत के बाद कहा कि सच कहूं तो इस मैच में टॉस के ज्यादा मायने नहीं थे।

राज एक्सप्रेस। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट मैच में मंगलवार को 317 रन की बड़ी जीत के बाद कहा कि सच कहूं तो इस मैच में टॉस के ज्यादा मायने नहीं थे, क्योंकि अगर आप हमारी दूसरी पारी को देखें तो हमने इसमें भी 300 के करीब रन बनाए। विराट ने मैच के बाद कहा,''दोनों टीमों को पहले सत्र से ही खेल में होना चाहिए, चाहे वह धीमी पिच हो या तेज और इस मैच में असल में ऐसा ही था। खाली स्टैंड के साथ घरेलू मैदान पर पहला मैच खेलना थोड़ा अजीब था। सच कहूं तो हम पहले दो दिनों में बहुत उत्साहहीन थे, मैदान पर ऊर्जा से नहीं खेल पा रहे थे, लेकिन दूसरे टेस्ट से हमारे अंदर ऊर्जा आई और हमारा खेलने का स्वभाव बदला। मैदान में दर्शकों की मौजूदगी बहुत कुछ बदल देती है और यह मैच इसका एक उदाहरण है।"

विराट ने कहा, ''ऋषभ पंत ने ऑस्ट्रेलिया में सच में कड़ी मेहनत की है, जब वह दस्ताने के साथ चलते हैं तो आप उनकी प्रतिक्रियाओं में अंतर देख सकते हैं। उन्होंने काफी वजन कम किया है और खुद पर मेहनत की है। जिस तरह से उन्होंने पिच पर इतनी टर्न और उछाल का सामना किया उसके लिए उन्हें श्रेय दिया जाना बनता है। हम चाहते हैं कि वह एक कीपर के रूप में सुधार करते रहें, क्योंकि हमें पता है कि टीम के लिए उनका कितना महत्व है।" विराट ने कहा,''यह मैच अक्षर के लिए एक बहुत ही खास पल है। वह पहला मैच भी खेलते, अगर वह चोटिल न होते। वह मैदान पर उतरने के लिए उत्सुक थे और ऐसी पिच पाते ही वह मुस्कुरा रहे थे और गेंद को अपने हाथों में लेने का इंतजार नहीं कर पा रहे थे। आशा है कि वह यहां से खुद को बड़े खिलाड़ी के रूप में उभारेंगे। उनके आगे कई महत्वपूर्ण मैच हैं। मैं खुद को बेहतर बनाने और अपनी गलतियों को जल्द सुधारने को लेकर हमेशा गर्व महसूस करता हूं। अगर मैं कोई गलती करता हूं तो मैं यह सुनिश्चित करता हूं कि अगली पारी में इसे न दोहराऊं।"

भारतीय कप्तान ने रविचंद्रन अश्विन की तारीफ करते हुए कहा,''उन्होंने बेहतरीन बल्लेबाजी की और हमारे बीच हुई साझेदारी बहुत महत्वपूर्ण थी। मुझे पता था कि मैं अपने डिफेंस पर भरोसा कर सकता हूं और इस पिच पर चार सत्रों तक आसानी से बल्लेबाजी कर सकता हूं। अहमदाबाद टेस्ट चुनौतीपूर्ण रहेगा। इंग्लैंड के खेमे में उच्च कोटि के खिलाड़ी हैं और हमें अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करना होगा।"

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co