Under 19 Asia Cup : भारत ने आठवीं बार जीता अंडर-19 एशिया कप
Under 19 Asia Cup : भारत ने आठवीं बार जीता अंडर-19 एशिया कपSocial Media

Under 19 Asia Cup : भारत ने आठवीं बार जीता अंडर-19 एशिया कप

भारत ने शुक्रवार को यहां वर्षा बाधित फाइनल मुकाबले में पड़ोसी श्रीलंका को एकतरफा अंदाज में नौ विकेट से हरा कर अंडर-19 एशिया कप 2021 का खिताब जीत लिया।

दुबई। लेफ्ट आर्म स्पिनर विक्की ओस्तवाल (11 रन पर तीन विकेट) की घातक गेंदबाजी और सलामी बल्लेबाज अंगक्रिश रघुवंशी (56) के शानदार अर्धशतक की बदौलत भारत ने शुक्रवार को यहां वर्षा बाधित फाइनल मुकाबले में पड़ोसी श्रीलंका को एकतरफा अंदाज में नौ विकेट से हरा कर अंडर-19 एशिया कप 2021 का खिताब जीत लिया। भारत का यह आठवां खिताब है।

श्रीलंकाई टीम टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करते हुए बारिश के बाद निर्धारित 38 ओवर में नौ विकेट के नुकसान पर 106 रन ही बना सकी। जवाब में भारत ने अंगक्रिश और शाइक राशिद के बीच 96 रनों की साझेदारी की बदौलत 21.3 ओवर में ही एक विकेट पर 104 रन बना कर मैच और खिताब जीत लिया। डीएलएस पद्धति के तहत लक्ष्य 102 रन कर दिया गया था।

भारत और श्रीलंका के बीच अंडर-19 एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में यह पांचवीं भिड़ंत थी। दोनों टीमें इससे पहले 1989, 2003, 2016 और 2018 के फाइनल में आपस में भिड़ीं थी और इन सभी मैचों में भारत ने श्रीलंका को एकतरफा अंदाज में हराया था और आज भी भारत का यही अंदाज रहा।

1989 के फाइनल में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका को 225 रन का लक्ष्य दिया था, लेकिन श्रीलंकाई टीम 39.5 ओवर में 145 रन पर ही सिमट गई और भारत ने 79 रन से मैच जीत लिया। 14 साल के लंबे अंतराल के बाद 2003 के संस्करण के फाइनल में दोनों फिर एक-दूसरे के सामने आए, लेकिन भारत का दबदबा कायम रहा। इस संस्करण में श्रीलंका ने भारत को 226 रनों का लक्ष्य दिया, जिसे भारत ने एकतरफा अंदाज में आठ विकेट से जीत लिया।

2016 में टूर्नामेंट की मेजबानी करते हुए श्रीलंका ने फाइनल में जगह बनाई, जहां उसे तीसरी बार भारत का सामना करना पड़ा और यहां भी भारत ने 34 रन से मुकाबला और खिताब जीत लिया। 2021 संस्करण से पहले 2018 के फाइनल में भी भारत ने श्रीलंका को 144 रन से एकतरफा अंदाज में हराते हुए खिताब पर कब्जा किया। मौजूदा संस्करण में भी भारत ने इतिहास को दोहराया और श्रीलंका पर नौ विकेट से आसान जीत दर्ज की।

लेफ्ट आर्म स्पिनर विक्की ओस्तवाल, कौशल तांबे और अन्य गेंदबाजों की घातक गेंदबाजी के आगे श्रीलंकाई बल्लेबाज बेबस नजर आए और एकाएक विकेट गंवाते रहे। विक्की ने आठ ओवर में 11 रन देकर सर्वाधिक तीन विकेट लिए। उनके अलावा कौशल ने छह ओवर में 23 रन देकर दो, जबकि राजवर्धन हैंगर्गेकर, रवि कुमार और राज बावा ने एक-एक विकेट लिया।

रवि, राज और कौशल ने श्रीलंका के शीर्ष क्रम को वापस भेजा, जबकि विक्की ने मध्य क्रम को चारों खाने चित कर दिया। 37 रन पर चार विकेट गिरने के बाद श्रीलंकाई टीम इतने दबाव में आई कि फिर संभल नहीं पाई। शीर्ष क्रम से लेकर निचले क्रम तक कोई भी खिलाड़ी सेट नहीं हो पाया।

बल्लेबाजी में श्रीलंका को धराशायी करने के बाद भारत ने बल्लेबाजी में दबदबा दिखाया और शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों अंगक्रिश और राशिद की 96 रनों की साझेदारी की बदौलत नौ विकेट से मैच जीत लिया। अंगक्रिश ने सात चौकों की मदद से 67 गेंदों पर 56 और राशिद ने दो चौकों के सहारे 49 गेंदों पर 31 रन की नाबाद पारी खेली।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co