Virat Kohli and Babar Azam
Virat Kohli and Babar Azam |Ankit Dubey - RE
खेल

'विराट कोहली' की तरह सफल बल्लेबाज बनना चाहते हैं, 'बाबर आजम'

पाकिस्तान के बल्लेबाज बाबर आजम, जिन्होंने कल आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में 10वां स्थान प्राप्त किया है। वह विराट कोहली की तरह बनने की इच्छा रखते हैं।

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। पाकिस्तान के बेहतरीन बल्लेबाज बाबर आजम जिन्होंने कल आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में 10वां स्थान प्राप्त किया है, वह विराट कोहली की तरह बनने की इच्छा रखते हैं। बाबर आजम विराट कोहली के रिकॉर्ड के मामले में उनसे कोसों दूर हैं लेकिन वह फिर भी अपनी खेल प्रतिभा को अच्छा बना कर उनके जैसी महानता हासिल करना चाहते हैं, विराट कोहली के बड़े प्रशंसक भी हैं, साथ ही उनको आदर्श मानते हैं और विराट की तरह बनने की कोशिश भी कर रहे हैं।

नंबर 1 बल्लेबाज बनना है सपना

बाबर आजम ने पीटीआई से साक्षात्कार के दौरान कहा कि, "वे टेस्ट और एक दिवसीय रैंकिंग में विश्व के नंबर 1 बल्लेबाज की तरह बनना चाहते हैं।" उन्होंने कहा कि "कोहली वैसे भी बहुत कुछ बड़ा हासिल कर चुके हैं, वह भारत के बड़े खिलाड़ी हैं। ईमानदारी से कहूं तो मेरी तुलना विराट कोहली से जरा भी नहीं की जा सकती, लेकिन मैं वहां तक पहुंचना चाहता हूं और वह हासिल करना चाहता हूं, कुछ मीडिया कर्मियों और लोगों ने मेरी बराबरी विराट से की थी, लेकिन मुझे लगता है कि, एक बड़ा खिलाड़ी को बनाने के लिए टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। इसलिए मैंने टेस्ट क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करने पर ध्यान केंद्रित किया है।

मैच विनर कि तरह खेलना है

उन्होंने कहा कि "मैं विराट कोहली की तरह मैच विनर बनकर अपनी टीम को जिताना चाहता हूं।" उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ रावलपिंडी में हुए टेस्ट मैच में नाबाद शतकीय पारी भी खेली थी। वे लगातार शतक बनाते हुए आ रहे हैं, उन्होंने कहा कि, "मेरी तुलना जब कोहली या स्टीव स्मिथ से की जाती है हो तो मेरे ऊपर दबाव नहीं आता, मैं अपनी बल्लेबाजी पर काफी ध्यान देता हूं और घंटों तक अपने बल्लेबाजी के वीडियो देख रहा हूं, अपनी गलतियों से सीख कर उन्हें आगे ना दोहराने के लिए काम करता हूं।"

स्वाभाविक खेल नॉर्मल स्ट्रोक लगाना है

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कुछ दिन पूर्व टेस्ट मैच में बाबर आजम ने दो शतक लगाए थे। बाबर ने कहा "उस दौरान मैं एक पारी में खराब शॉट लगाकर आउट हो गया था, इसका मुझे काफी दुःख हुआ और नाराजगी भी हुई, लेकिन दूसरी पारी में मैंने धैर्य रखा और अच्छा खेला जिसका मुझे फायदा हुआ मेरा स्वाभाविक खेल नॉर्मल स्ट्रोक लगाना ही है।"

अपना लक्ष्य निर्धारित कर लिया है

बाबर आजम ने आगे बताया कि "मैं टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक लगाकर भी इतिहास रचना चाहता हूं मैंने अपने लक्ष्य निर्धारित कर लिया है, आपको अपना लक्ष्य निर्धारित कर लेना चाहिए जैसा कि सभी बड़े खिलाड़ी करते हैं। मैं टेस्ट क्रिकेट में लगातार अच्छा करना चाहता हूं और यही मेरा एक बड़ा लक्ष्य है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co