टी20 मैचों में क्या होगा भारत का टीम संयोजन

भारत के खिलाफ वनडे सीरीज के खत्म होने के बस एक दिन के अवकाश के पश्चात वेस्टइंडीज और भारतीय टीम का सामना कैरेबियन और यूएसए में एक पांच मैच के टी20 सीरीज के लिए होगा।
टी20 मैचों में क्या होगा भारत का टीम संयोजन
टी20 मैचों में क्या होगा भारत का टीम संयोजनSocial Media

टारौबा। भारत के खिलाफ वनडे सीरीज के खत्म होने के बस एक दिन के अवकाश के पश्चात वेस्टइंडीज और भारतीय टीम का सामना कैरेबियन और यूएसए में एक पांच मैच के टी20 सीरीज के लिए होगा। भारत के लिए इस सीरीज में रोहित शर्मा बतौर कप्तान लौटेंगे और साथ ही ऋषभ पंत और हार्दिक पंड्या की भी वापसी होगी। हालांकि टी20 विश्व कप से पहले जसप्रीत बुमराह और युजवेंद्र चहल को इस सीरीज के लिए विश्राम दिए जाने से भारत के दूसरी श्रेणी के गेंदबाजों के पास चयन समिति को प्रभावित करने का बड़ा मौका होगा। तो भारत को किन सवालों के जवाब ढूंढने होंगे.?

क्या पंत होंगे रोहित के जोड़ीदार : भारत के आखिरी दो टी20 मुकाबलों में रोहित शर्मा के साथ सलामी बल्लेबाजी करने ऋषभ पंत उतरे थे, हालांकि इन मैचों में उन्होंने बर्मिंघम में 26 और नॉटिंघम में केवल एक रन बनाया। इस दौरे पर भारत की योजना में रोहित और केएल राहुल की जोड़ी से ओपन करवाना था, लेकिन राहुल की अनुपस्थिति में हो सकता है पंत से ही ओपन करवाया जाएगा। पंत, राहुल द्रविड़ के कोच रहते हुए अंडर-19 क्रिकेट में भी ओपन कर चुके हैं, जहां उनके जोड़ीदार रह चुके इशान किशन संभवत: यहां पंत के बैकअप की भूमिका में होंगे।

श्रेयस बनाम हुड्डा : दीपक हुड्डा बल्लेबाजी में किसी भी क्रम पर आ सकते हैं और वह ऑफ स्पिन का एक भरोसेमंद विकल्प भी देते हैं। ऐसे में संभव है कि सूर्यकुमार यादव, दिनेश कार्तिक और हार्दिक के साथ भारत के मध्यक्रम में उन्हें श्रेयस से पहले जगह मिले। श्रेयस को शॉर्ट गेंद पर विपक्षी टीमों ने काफी परेशान किया है, जबकि हुड्डा और सूर्यकुमार इस बल्लेबाजी क्रम में स्पिन और पेस दोनों के खिलाफ अच्छी बल्लेबाजी करते हैं। इसके अलावा हुड्डा ने यह भी दर्शाया है कि वह सलामी जोड़ी के ठीक बाद उतरकर अच्छी पारी खेल सकते हैं। वेस्टइंडीज टीम में बाएं हाथ के बल्लेबाजों के विरुद्ध उनकी ऑफ स्पिन भी काम आएगी।

जडेजा या अक्षर : जब वह फिट रहते हैं तो भारत के लिए स्पिन गेंदबाजी करने वाले ऑलराउंडर में रवींद्र जडेजा आगे रहते हैं। हालांकि इस दौरे पर अक्षर पटेल ने साफ दर्शाया है कि वह बल्ले से भारत को मैच जिताने का जज़्बा रखते हैं। जडेजा पिछले कुछ समय से कई बार चोटग्रस्त होते रहे हैं और ऐसे में उनकी जगह सबसे अच्छे विकल्प अक्षर ही हैं। काइल मेयर्स और निकोलस पूरन जैसे खतरनाक खब्बू बल्लेबाजों के विरुद्ध जडेजा और अक्षर के हालिया रिकॉर्ड को भी ध्यान में रखना पड़ेगा। 2020 के शुरुआत से जडेजा ने बाएं हाथ के बल्लेबाजों के खिलाफ 39 पारियों में 9.13 की इकॉनमी से केवल आठ विकेट लिए हैं। वहीं अक्षर ने 40 पारियों में 8.10 के इकॉनमी के साथ 12 लेफ्ट हैंडर को अपना शिकार बनाया है।

कैसा होगा भारत का स्पिन विभाग : चहल की गैरमौजूदगी में रवि बिश्नोई अथवा कुलदीप यादव को मौका मिल सकता है। इसी साल वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन टी20 मैचों में भारत के लिए बिश्नोई ने 6.33 की इकॉनमी से तीन विकेट लिए थे। कुलदीप आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स के लिए बढ़िया फॉर्म में थे और चहल के साथ लीग के सबसे प्रभावशाली स्पिनर साबित हुए थे। इसके बाद कुलदीप के हाथ में चोट लगी थी, लेकिन उन्होंने पूरी फिटनेस हासिल कर ली है। ऐसे में वह छह महीने में पहली बार टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में दिख सकते हैं। वहीं आर अश्विन को भी विश्व कप की दावेदारी पेश करने का मौका दिया जा सकता है।

भुवनेश्वर के साथ नई गेंद किसे मिलेगी आवेश खान या अर्शदीप सिंह : आवेश ने नॉटिंघम और वनडे डेब्यू पर वेस्टइंडीज में रन लुटाए हैं और अर्शदीप ने पिछले महीने टी20 डेब्यू पर 18 रन देकर दो विकेट की प्रभावशाली गेंदबाजी की थी। फॉर्म को ध्यान में रखते हुए अर्शदीप को तरजीह दी जा सकती है। अर्शदीप ने इंग्लैंड में अभ्यास मैचों में भी दिखाया कि वह नई गेंद से अच्छी स्विंग करवाते हैं और आखिर के ओवर्स में यॉर्कर डालने में माहिर हैं। आईपीएल 2022 में अर्शदीप के 38 यॉर्कर्स की बराबरी केवल बुमराह ने की थी,वहीं आवेश के 18 यॉर्कर थे। बुमराह की अनुपस्थिति में आखिरी ओवर में यॉर्कर पर यॉर्कर डालने की जिम्मेदारी अर्शदीप को मिल सकती है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co