विशेषज्ञ से विकेटकीपिंग कराई जाए, धोनी क्यों हैं चुप: सैयद किरमानी
विशेषज्ञ से विकेटकीपिंग कराई जाए, धोनी क्यों हैं चुप: सैयद किरमानी|Ankit Dubey - RE
खेल

विशेषज्ञ से विकेटकीपिंग कराई जाए, धोनी क्यों हैं चुप: सैयद किरमानी

भारतीय क्रिकेट जगत में आजकल विकेटकीपिंग विकल्प को लेकर काफी चर्चा हो रही है। इसे लेकर भारतीय पूर्व दिग्गज विकेटकीपर सैयद किरमानी ने बड़ा बयान दिया है।

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। भारतीय क्रिकेट जगत में आजकल विकेटकीपिंग विकल्प को लेकर काफी चर्चा हो रही है। इसे लेकर भारतीय पूर्व दिग्गज विकेटकीपर सैयद किरमानी (Syed Kirmani) ने भारतीय विकेट कीपिंग को लेकर बड़ा बयान दिया है, उनका मानना है कि, केएल राहुल (KL Rahul) से विकेटकीपिंग कराना तलवार की धार पर चलने जैसा है। सैयद किरमानी ने कहा कि, यह बिल्कुल सही है कि, राहुल इस वक्त विकेटकीपिंग अच्छी कर रहे हैं और जरूरत पूरी हो रही है, लेकिन यह सब भारतीय टीम के लिए तलवार की धार पर चलने जैसा है, उन्होंने कहा कि राहुल एक बेहतरीन खिलाड़ी हैं और वह किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी करने में योग्य हैं।

सैयद किरमानी ने दिया यह बयान

विकेटकीपिंग विशेषज्ञ को ही करनी चाहिए, उसमें जरा सी भी गलती भारी हो सकती है, खुदा ना करे अगर विकेटकीपिंग के दौरान राहुल को चोट लग गई, तो यह भारत के लिए बहुत बड़ा झटका होगा। जब उनसे सवाल किया गया कि अगर राहुल विकेट कीपिंग करेंगे तो टीम के पास एक अतिरिक्त विकल्प बल्लेबाजी या गेंदबाजी का होता है?

इस पर उन्होंने कहा कि अगर टीम के पांच बल्लेबाज और एक ऑलराउंडर मिलकर मैच नहीं जिता पाए तो एक अतिरिक्त बल्लेबाज कोई खास बदलाव नहीं ला सकता। सबसे बड़ी बात यह है कि, राहुल का चोटिल होना भारतीय टीम को भारी पड़ सकता है।

विशेषज्ञ काम किसी माहिर खिलाड़ी का है

सैयद किरमानी (Syed Kirmani) ने कहा विकेट कीपर के रूप में भारतीय टीम के पास काफी विकल्प हैं। टीम में ऋषभ पंत हैं इसके अलावा दिनेश कार्तिक, रिद्धिमान साहा भी टीम में शामिल हो सकते हैं। विकेटकीपिंग जैसा विशेषज्ञ काम किसी माहिर खिलाड़ी को ही करना चाहिए।

धोनी क्यों हैं चुप: सैयद किरमानी

धोनी के संन्यास को लेकर सैयद किरमानी (Syed Kirmani) कुछ भड़के नजर आए और उन्होंने कहा कि, महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) 2019 विश्व कप के बाद से मैदान पर नहीं उतरे और उनकी खामोशी समझ से परे है, बीसीसीआई के अनुबंध से हटाए जाने के बाद भी धोनी कुछ नहीं बोले और अब सिर्फ आईपीएल खेलेंगे। मुझे लगता है कि धोनी का अंतरराष्ट्रीय करियर अंत की ओर है। उनका यह भी मानना है कि धोनी का यह तरीका उन्हें अच्छा नहीं लगा, एक महान कप्तान और खिलाड़ी पिछले 6 महीने से क्रिकेट नहीं खेला है। किरमानी ने कहा उन्हें इस बारे में खुलकर बात करनी चाहिए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co