Uttar Pradesh : लखीमपुर में दरिंदगी का शिकार बनी दो सगी बहनें

इस घटना के सामने आने के बाद से उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में तनाव का माहौल बना हुआ है। लोग इस घटना को लेकर काफी गुस्से में हैं।

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में उस वक्त सनसनी फैल गई, जब राज्य में दो सगी बहनों की लाश पेड़ से लटकते हुए मिली। घटना निघासन कोतवाली क्षेत्र की है। लड़कियों के परिवारवाले कह रहे हैं कि 3 लड़कों ने दोनों बहनों को अगवा किया, जबकि पुलिस कह रही है कि दोनों बहन तीनों लड़कों को पहले से जानती थी। तीनों ने जब दरिंदगी की तो बहनों ने उनके सामने शादी का दबाव बनाया और तब तीनों ने उनकी हत्या कर दी।

लखीमपुर खीरी जैसी घटना यूपी में पहले भी घट चुकी है। 8 साल पहले भी यूपी में ऐसा ही मामला बदांयू जिले से सामने आया था। जहां 27 मई 2014 की रात जिले के गांव कटरा सआदतगंज में रहनी वाली 12 और 14 साल की दो चचेरी बहनें ऐसी ही दरिंदगी का शिकार हो गईं थी।

बता दें कि, इस घटना के सामने आने के बाद से उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में तनाव का माहौल बना हुआ है। लोग इस घटना को लेकर काफी गुस्से में हैं। इलाके में तनाव को देखते हुए पूरे इलाके में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

जानकारी के अनुसार, यह घटना लखीमपुर खीरी के निघासन थाना क्षेत्र के तमोलीन पुरवा गांव की है। यहां बीते दिन बुधवार दोपहर को तीन युवकों ने 15 और 17 साल की दो दलित बहनों का उनके घर से अपहरण कर लिया और इसके कुछ देर बाद दोनों बहनों के शव एक पेड़ से लटके मिले। उन्हें उनके दुपट्टों से फांसी दी गई थी। पुलिस को हेल्पलाइन नंबर 112 पर करीब 5:40 बजे घटना की सूचना मिली, जिसके बाद वो मौके पर पहुंची।

उत्तर प्रदेश की आईजी लखनऊ लक्ष्मी सिंह ने इस बारे में कहा कि, "लखीमपुर खीरी के एक गांव के बाहर खेत में 2 बच्चियों के शव पेड़ से लटके मिले। शवों पर कोई चोट नहीं पाई गई। पोस्टमार्टम के बाद अन्य बातों का पता चलेगा, जांच जारी है।"

मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक्शन लेते हुए FIR दर्ज कर ली है और 6 आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। इस बारे में बात करते हुए लखीमपुर खीरी ASP अरुण कुमार सिंह ने कहा कि, "मामले में 6 आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co