Raj Express
www.rajexpress.co
अमेरिका के साउथ डकोटा में हुई विमान दुर्घटना।
अमेरिका के साउथ डकोटा में हुई विमान दुर्घटना।|सोशल मीडिया
दुनिया

साउथ डकोटा की विमान दुर्घटना में 9 लोगों की मौत, 2 बच्चे भी शामिल

अमेरिका के साउथ डकोटा में एक विमान शनिवार दोपहर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान में 12 यात्री और एक पायलेट सवार था जबकि, उसकी भार क्षमता केवल 10 यात्रियों और एक पायलेट की है।

प्रज्ञा

प्रज्ञा

राज एक्सप्रेस। अमेरिका के साउथ डकोटा में शनिवार दोपहर उड़ान भरने की कुछ ही देर में एक विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान में 12 यात्री और 1 पायलेट सवार था जबकि, उसकी भार क्षमता केवल 10 यात्रियों और 1 पायलेट की है।

इस विमान दुर्घटना में 9 लोगों की मौत हो गई है। शनिवार, 30 नवंबर 2019 की दोपहर विमान ने इदाहो फॉल्स के लिए उड़ान भरी लेकिन इसके कुछ ही देर में यह दुर्घटनाग्रस्त हो गया। साउथ डकोटा प्रशासन के पुलिस विभाग ने ये जानकारी दी।

दुर्घटना में हुई 9 लोगों की मृत्यु में दो बच्चे और विमान का एक पायलट भी शामिल है। इदाहो फॉल्स जा रहे इस विमान ने चैम्बरलेन से उड़ान भरी थी।

अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दुर्घटनाग्रस्त हुए पिलेटस पीसी-12 विमान में कुल 12 लोग सवार थे। जिनमें से केवल 3 लोगों को बचाया जा सका। फिलहाल ये तीनों सियु फॉल्स के एक अस्पताल में भर्ती हैं और उनका इलाज चल रहा है।

ब्रूस काउंटी के लिए राज्य की वकील थेरेसा मौले रॉसो ने एबीसी न्यूज को इस बात की जानकारी दी। उन्होंने, कानूनी संस्थाओं, घायलों की मदद के लिए सबसे पहले आगे आए लोगों और चिकित्सकीय पेशावरों की अत्यधिक मुश्किल मौसम में पीड़ितों को बचाने के लिए किए कार्यों के लिए प्रशंसा की।

यह भी बताया जा रहा है कि, खराब मौसम की जानकारी पहले से दी गई थी लेकिन उड़ान भरते वक्त इसे शायद नजरंदाज किया गया। मौसम विभाग ने तूफान आने की आशंका भी जताई थी।

साउथ डकोटा के सियु फॉल्स की नेशनल वेदर सर्विस ने जानकारी दी कि, क्षेत्र में अत्यधिक सर्दी और बर्फबारी का मौसम है। मौसम विभाग ने एक इंच प्रतिघंटे के हिसाब से बर्फबारी होने की आशंका भी जताई है। जिसके चलते विज़िब्लिटी एक मील से भी कम होने की संभावना है।

दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान में 12 यात्रियों के साथ एक पायलेट सवार था। जबकि, पिलाटस वेबसाइट के अनुसार, सिंगल-इंजन टर्बोप्रॉप प्लेन का वर्तमान पीसी-12 मॉडल एक से अधिक पायलट और 10 से अधिक यात्रियों का भार नहीं वहन कर सकता है।

साउथ डकोटा का फेडरल एवियेशन प्रशासन इसकी जांच कर रहा है। उन्होंने बताया कि, जांचकर्ताओं को दुर्घटना स्थल पर ले जाया गया। साथ ही राष्ट्रीय परिवहन सुरक्षा बोर्ड (एनटीएसबी) की देखरेख में जांच पूरी होगी। प्रारंभिक जांच की रिपोर्ट दो सप्ताह के भीतर जारी होने की उम्मीद है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।