Raj Express
www.rajexpress.co
पाकिस्तान ननकाना साहिब गुरुद्वारे हमले पर अकाली दल का प्रदर्शन
पाकिस्तान ननकाना साहिब गुरुद्वारे हमले पर अकाली दल का प्रदर्शन |Social Media
दुनिया

पाकिस्तान ननकाना साहिब गुरुद्वारे हमले पर अकाली दल का प्रदर्शन

पाकिस्तान स्थित ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर हुए हमले के विरोध में अकाली दल ने शनिवार को हमले के खिलाफ प्रदर्शन किया।

Rishabh Jat

राज एक्सप्रेस। पाकिस्तान में ननकाना साहिब गुरुद्वारा पर हमला हुआ था। भीड़ ने ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पथराव किया था। साथ ही ननकाना साहिब गुरुद्वारे का नाम बदलने और सिखों को वहां से भगाने के नारे भी लगाए। इस दौरान काफी संख्या में सिख श्रृद्धालु ननकाना साहिब गुरुद्वारे में फंस गए और वहां से जल्द से जल्द निकालने की मांग की। हमला करने वाली भीड़ की अगुवाई मोहम्मद हसन का भाई कर रहा था। मोहम्मद हसन ने ही सिख लड़की जगजीत कौर को अगवा किया था और उससे निकाह कर लिया था। मोहम्मद हसन के भाई ने कहा कि सिखों ने जगजीत कौर को वापस भेजने के लिए दवाब डाला, लेकिन यह कभी नहीं होगा, क्योंकि वह अब मुस्लिम बन चुकी हैं। हमले के विरोध में अकाली दल प्रदर्शन कर रहा है। दिल्ली में सिख समुदाय गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी और अकाली दल ने शनिवार को ननकाना साहिब हमले के खिलाफ प्रदर्शन किया।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पाकिस्तान में ननकाना साहिब पर भीड़ के पथराव एवं नारेबाजी की घटना की निंदा करते हुए कहा कि कट्टरता एक ऐसा खतरनाक और पुराना जहर है जिसकी कोई सीमा नहीं है। इससे पहले बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीटर पर वीडियो शेयर कर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से पूछा था कि इस्लाम के नाम पर पाकिस्तान में सिख भाइयों को धमकी दी जा रही है। इन कांग्रेसियों को “शोषित धार्मिक अल्पसंख्यक” का और सबूत चाहिए? आप के लिए ये सबूत काफ़ी हैं या और चाहिए?

राहुल ने ट्वीट कर कहा,''ननकाना साहिब पर हमला निंदनीय है और इसकी खुल कर भर्त्सना करनी चाहिए।'' गांधी ने कहा, '' धर्मान्धता खतरनाक है और यह बहुत पुराना जहर है जिसकी कोई सीमा नहीं होती। प्रेम, परस्पर सम्मान और समझ ही इस जहर को खत्म करती है।" इस घटना के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मुज्जफरनगर में संवाददाताओं से कहा कि ऐसी किसी भी घटना की निंदा होनी चाहिए।

इस घटना पर ट्विटर यूजर्स ने अपनी चिंता जाहिर की। भारत में पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने ट्वीट किया, 'गुरु नानक देव जी के जन्म स्थान गुरुद्वारा श्री ननकाना साहिब पर भीड़ का हमला घृणित कार्य है और मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से इसे पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के समक्ष उठाने का अनुरोध करता हूं। हमें पाकिस्तान में सिखों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी होगी और मुझे विश्वास है कि सरकार इस मसले को प्राथमिकता के आधार पर निपटाएगी।' एक यूजर ने टिप्पणी की कि इसीलिए नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) जरूरी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।