चीन ने 5 भारतीयों के अपहरण के बाद अरुणाचल प्रदेश को बताया अपना हिस्‍सा
चीन ने 5 भारतीयों के अपहरण के बाद अरुणाचल प्रदेश को बताया अपना हिस्‍सा|Social Media
दुनिया

चीन ने 5 भारतीयों के अपहरण के बाद अरुणाचल प्रदेश को बताया अपना हिस्‍सा

चीन ने पहले अरुणाचल प्रदेश से 5 भारतीय युवकों का अपहरण किया। युवकों की जानकारी देने के बजाय नई हिमाकत कर चीन ने एक बार फिर अरुणाचल प्रदेश को अपना बताया।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

चीन। इन दिनों पूरी दुनिया की नजर दो ताकतवर देश 'भारत और चीन' के बीच बने टकराव पर टिकी हुई हैं, क्‍योंकि दोनों देशों के बीच LAC पर तनाव जैसे हालात गंभीर हैं। एक तरफ चीन भारत से शांति की अपील कर रहा है, तो वहीं दूसरी ओर चालबाजी करने से बाज नहीं आ रहा है। अरुणाचल प्रदेश से 5 भारतीय युवकों का अपहरण करने के बाद चीन की अब नई हिमाकत फिर सामने आई और उसने अरुणाचल प्रदेश को अपना हिस्‍सा बताया।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता का बयान :

चीन के सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स के अनुसार, चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता झाओ ल‍िज‍िन ने अपने एक बयान में कहा है कि, ''चीन ने कभी अरुणाचल प्रदेश को मान्‍यता नहीं दी है जो चीन का दक्षिणी तिब्‍बत इलाका है।'' इतना ही नहीं चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता झाओ ल‍िज‍िन से जब इन युवकों के बारे में पूछा गया, तो उसने 5 भारतीय युवकों का अपहरण की जानकारी देने की बजाय अब अरुणाचल प्रदेश को चीन का हिस्‍सा बता द‍िया।

5 भारतीयों के अपहरण पर कही ये बात :

इस दौरान चीनी प्रवक्ता झाओ ल‍िज‍िन ने अरुणाचल प्रदेश से 5 भारतीय युवकों का अपहरण को लेकर ये बात कही है कि, ''हमारे पास अभी इस बात की कोई जानकारी नहीं है और ना ही भारतीय सेना ने ऐसी कोई अपील की हैं।''

बता दें कि, अरुणाचल प्रदेश के 5 युवकों के अपहरण के मामले पर अरुणाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग ईरिंग ने बताया था। उन्‍होंने ट्वीट साझा करते हुए कहा था, चौंकाने वाली खबर... अरुणाचल प्रदेश के सुबासिरी के पांच लोगों का चीनी सेना द्वारा अपहरण किया गया। पीएलए और चाइनीज कम्युनिस्ट पार्टी को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए। उन्‍होंने अपने इस ट्वीट में किडनैप किए गए युवकों के नाम भी लिखे हैं, जो इस प्रकार है- टोच सिंगकम, प्रसाद रिंगलिंग, डोंगटू इबिया, तनु बेकर और नार्गु डिरी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co