अहमद मसूद और अमरूल्लाह सालेह ताजिकिस्तान में , बाइडेन सरकार का कोई समर्थन नहीं: रिपोर्ट
अहमद मसूद और अमरूल्लाह सालेह ताजिकिस्तान में , बाइडेन सरकार का कोई समर्थन नहीं: रिपोर्टSocial Media

अहमद मसूद और अमरूल्लाह सालेह ताजिकिस्तान में , बाइडेन सरकार का कोई समर्थन नहीं: रिपोर्ट

अफगानिस्तान में तालिबान का विरोध करने वाले प्रतिरोधी समूह का नेता अहमद मसूद और पूर्व उप राष्ट्रपति अमरूल्लाह सालेह इस समय पड़ोसी देश ताजिकिस्तान में हैं।

काबुल। अफगानिस्तान में तालिबान का विरोध करने वाले प्रतिरोधी समूह का नेता अहमद मसूद और पूर्व उप राष्ट्रपति अमरूल्लाह सालेह इस समय पड़ोसी देश ताजिकिस्तान में हैं तथा अमेरिकी सरकार एवं सीआईए उनकी समर्थन करती नजर नहीं आ रही है। एक न्यूज रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। 'द इंटरसेप्ट ' की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि उत्तरी गठबंधन के नेता दिवंगत अहमद शाह मसूद का बेटा अहमद मसूद पंजशीर पर तालिबान के कब्जे से पहले ही छह सितंबर को विमान के जरिए कजाकिस्तान आ गया था और उसके कुछ दिनों बाद अमरूल्लाह सालेह भी हेलीकॉप्टर से अफगानिस्तान से निकल गए थे।

इन दोनों नेताओं की देश से बाहर चले जाने संबंधी रिपोर्टें जनता के उन दावों की विरोधाभाषी है जो यह कहती है कि ये दोनों अभी भी अफगानिस्तान में हैं और तालिबान के खिलाफ संघर्ष कर रहे हैं। कई दशकों में ऐसा पहली बार हुआ है जब अमेरिकी सरकार और सीआईए इन्हें समर्थन देती नजर नहीं आ रही है इन दोनों नेताओं को हथियार एवं अन्य सहायता पश्चिमी देशों से मिल रही है लेकिन बाइडेन प्रशासन इन्हें कोई मदद नहीं देता नजर आ रहा है तथा न ही ऐसा कोई संकेत दिया है कि भविष्य में भी इन्हें कोई मदद दी जाएगी।

मसूद वर्तमान में ताजिक राजधानी दुशांबे में एक ''सुरक्षित घर" में हैं। मसूद के प्रवक्ता अली मैसम नाजारी ने सोमवार को द इंटरसेप्ट को बताया था कि मसूद अफगानिस्तान में एक अज्ञात स्थान पर है। न्यूयॉर्क टाइम्स ने पिछले हफ्ते रिपोर्ट दी थी कि पंजशीर प्रांत में ''लड़ाई काफी हद तक समाप्त हो गई थी" और जो प्रतिरोध बन रहा है वह पहाड़ी इलाकों तक ही सीमित है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.