बांझ करने वाले बैक्टीरिया ने बढ़ाई चीन की टेंशन
"चीन के सरकारी समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स में संक्रमितों की संख्या अपेक्षा से अधिक होने एवं रोग के प्रसार और परिणामों पर चिंता जताई गई है।"
बांझ करने वाले बैक्टीरिया ने बढ़ाई चीन की टेंशन
पुरुषों में मिले बांझपन के लक्षण।Syed Dabeer Hussain - RE

हाइलाइट्स –

  • ब्रुसेला बैक्टीरिया का संकट

  • पुरुषों में मिले बांझपन के लक्षण

  • पशुओं के संपर्क में आने से फैला

  • बायोफार्मास्युटिकल कंपनी की लापरवाही

राज एक्सप्रेस। यह संक्रमण कथित तौर पर पशुओं में पाए जाने वाले ब्रुसेला बैक्टीरिया के संपर्क में आने के कारण होता है। कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार यह समस्या सूजन वाले अंडकोष का दुष्प्रभाव हो सकता है साथ ही पुरुषों को बांझ भी कर सकती है।

हेल्थ कमीशन की रिपोर्ट -

गांसु (Gansu) प्रांत की राजधानी लान्झोउ (Lanzhou) के स्वास्थ्य आयोग के अनुसार, 3,245 लोगों में इस बीमारी के पॉजिटिव लक्षण मिले हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार यह व्याधि कथित तौर पर बैक्टीरिया ब्रुसेला (bacteria Brucella) से ग्रसित पशुधन के संपर्क में आने के कारण उत्पन्न होती है।

उत्तर-पश्चिम चीन में प्रभाव -

चीन के उत्तर-पश्चिम में कई हजार लोग की जांच में ब्रुसेलोसिस (brucellosis) नाम के एक जीवाणु के लक्षण मिले हैं। इस लक्षण के पॉजिटिव लोगों के बारे में चीनी अधिकारियों ने मंगलवार को पुष्टि की। रिपोर्ट के अनुसार यह बैक्टीरिया पिछले साल एक बायोफार्मास्युटिकल कंपनी में हुए रिसाव के कारण फैला।

CDC ने कहा माल्टा फीवर है -

संयुक्त राज्य अमेरिका के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी-CDC) ने कहा कि इस बीमारी को माल्टा बुखार या मेडिटेरियन फीवर के रूप में भी जाना जाता है। इससे सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द, बुखार और थकान हो सकती है।

हालांकि ये लक्षण समयांतराल में कमतर हो सकते हैं, कुछ लक्षण पुराने हो सकते हैं या कभी नहीं जा सकते। गठिया (arthritis) या कुछ अंगों में सूजन के तौर पर इस रोग की पहचान हुई है।

फैलने की वजह -

सीडीसी का मानना है कि; इस बीमारी के मानव-से-मानव में फैलने (infection) की संभावना बहुत कम है। संक्रमण ज्यादातर दूषित भोजन की खपत या बैक्टीरिया में सांस लेने से फैलता है। लान्झोउ (Lanzhou) में इस बात की संभावना अधिक है।

सीएनएन की रिपोर्ट -

सीएनएन के अनुसार पिछले साल जुलाई और अगस्त के बीच झ़ोंग्मू लान्झोउ जैविक दवा कारखाने (Zhongmu Lanzhou biological pharmaceutical factory) में रिसाव से प्रकोप का प्रसार हुआ।

पशु उपयोग के लिए ब्रुसेला के टीके बनाते समय कारखाने में एक्सपायर्ड कीटाणुनाशक और सैनिटाइज़र का उपयोग किया जाता है। इस कारण मनुष्यों के लिए हानिकारक अपशिष्ट गैस में सभी बैक्टीरिया समाप्त नहीं हो पाए।

जांच में बढ़ गई तादाद -

शुरुआत में माना जा रहा था इस नई व्याधि से संक्रमित होने वालों की संख्या कम है। परीक्षण के बाद संक्रमितों की तादाद बढ़ती चली गई। कुल 21,000 लोगों के परीक्षण से पता चला है कि संक्रमण की दर बहुत ज्यादा है।

जताई गई चिंता -

हालांकि बैक्टीरिया जनित इस नई समस्या से अब तक अधिकृत तौर पर मृत्यु की पुष्टि नहीं हुई है लेकिन चीन के सरकारी समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स में संक्रमितों की संख्या अपेक्षा से अधिक होने एवं रोग के प्रसार और परिणामों पर चिंता जताई गई है।

डिस्क्लेमर – आर्टिकल प्रचलित रिपोर्ट्स पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co