पाकिस्तान को सऊदी अरब से मिलेगी आठ अरब डॉलर की सहायता
पाकिस्तान को सऊदी अरब से मिलेगी आठ अरब डॉलर की सहायताSocial Media

पाकिस्तान को सऊदी अरब से मिलेगी आठ अरब डॉलर की सहायता

सऊदी अरब ने पाकिस्तान को आठ अरब डॉलर की वित्तीय सहायता देने का फैसला किया है। स्थानीय मीडिया द्वारा रविवार को यह जानकारी दी गई।

इस्लामाबाद। सऊदी अरब ने पाकिस्तान को आठ अरब डॉलर की वित्तीय सहायता देने का फैसला किया है। स्थानीय मीडिया द्वारा रविवार को यह जानकारी दी गई। रिपोर्ट के अनुसार इस वित्तीय सहायता में तेल वित्तपोषण सुविधा को दोगुना करना, जमा या सुकुक्स के माध्यम से अतिरिक्त धन और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की यात्रा के दौरान मौजूदा 4.2 अरब डॉलर की सहायता की अवधि को बढ़ाना शामिल है।

पाकिस्तान के वित्त मंत्री मिफ्ता इस्माइल बढ़े हुए वित्तीय पैकेज की शर्तों को अंतिम रूप देने के लिए प्रधान मंत्री शहबाज शरीफ और उनके मंत्रिमंडल के सदस्यों के जाने के बाद सऊदी अरब में रुके हुए हैं।

नए सहायता पैकेज में तेल सुविधा को 1.2 अरब डॉलर से दोगुना करके 2.4 अरब डॉलर करना शामिल होगा। सऊदी अरब ने इसके लिए सहमति व्यक्त की है। दोनों देशों के बीच इस पर भी सहमति हुई कि तीन अरब डॉलर की मौजूदा जमा राशि को जून 2023 तक विस्तारित अवधि के लिए बढ़ाया जाएगा।

पाकिस्तान के लिए सऊदी अरब का यह नया वित्तीय पैकेज ऐसे समय में आया है, जब उसकी अर्थव्यवस्था गंभीर संकट में है और देश शेष भुगतान और उच्च मुद्रास्फीति की स्थिति का सामना कर रहा है। स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान के पास देश का विदेशी मुद्रा भंडार पिछले छह से सात हफ्तों में छह बिलियन डॉलर से घटकर इस समय 10.5 अरब डॉलर रह गया है।

पहले नौ महीनों में चालू खाते के घाटे में 13.2 अरब डॉलर की बढ़ोत्तरी और बाहरी ऋण चुकौती आवश्यकताओं पर बढ़ते दबाव के बीच पाकिस्तान को विदेशी मुद्रा भंडार में और कमी को रोकने के लिए जून 2022 तक नौ अरब डॉलर से 12 अरब डॉलर की वित्तीय सहायता की आवश्यकता है। पाकिस्तान को चालू वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही (अप्रैल-जून) में तीन अरब डॉलर का विदेशी कर्ज चुकाना होगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.