तालिबान दोहा में कर रहा अफगानिस्तान की भावी सरकार के बारे में बातचीत
तालिबान दोहा में कर रहा अफगानिस्तान की भावी सरकार के बारे में बातचीतSocial Media

तालिबान दोहा में कर रहा अफगानिस्तान की भावी सरकार के बारे में बातचीत

आतंकवादी संगठन तालिबान ने कहा है कि अफगानिस्तान में भविष्य की सरकार के गठन के बारे में कतर की राजधानी दोहा में चर्चा चल रही है, जिसमें इसकी संरचना और नाम शामिल हैं।

काबुल। आतंकवादी संगठन तालिबान ने कहा है कि अफगानिस्तान में भविष्य की सरकार के गठन के बारे में कतर की राजधानी दोहा में चर्चा चल रही है, जिसमें इसकी संरचना और नाम शामिल है तथा वे जल्द ही विस्तृत विवरण का खुलासा करेंगे।

तालिबान के एक उच्च पदस्थ अधिकारी ने टोलो न्यूज को बताया कि उनका नेतृत्व दोहा में चर्चा में व्यस्त है और अंतरराष्ट्रीय समुदाय तथा अफगानिस्तान के राजनीतिक दलों के संपर्क में है। तालिबान के राजनीतिक उप नेता मुल्ला अब्दुल गनी बरादर ने कहा कि यह तालिबान के लिए परीक्षा की घड़ी है। उसने कहा, ''इस समय हम एक परीक्षा का सामना कर रहे हैं क्योंकि अब हम लोगों की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार हैं।"

तालिबान ने सोमवार को काबुल में टोलो न्यूज परिसर में प्रवेश किया, सुरक्षा कर्मचारियों के हथियारों की जांच की, सरकार द्वारा जारी हथियार एकत्र किये और परिसर को सुरक्षित रखने पर सहमति दी। चैनल के कर्मचारियों के साथ कोई अनुचित व्यवहार नहीं किया गया था। काबुल निवासी अहमद फरीद ने कहा, ''एक ऐसी सरकार होनी चाहिए जिसमें सभी लोगों की हिस्सेदारी हो और स्थिरता हो। काबुल के ही निवासी फजल रबी ने कहा, ''देशव्यापी सुरक्षा सुनिश्चित की जानी चाहिए क्योंकि लोग युद्ध से थक चुके हैं।"

हिज्ब-ए-इस्लामी नेता गुलबुद्दीन हिकमतयार, जो वार्ता को आगे बढ़ाने के लिए एक स्व-घोषित परिषद का हिस्सा हैं, ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी की विफलताओं ने देश में मौजूदा स्थिति को जन्म दिया है। श्री हिकमतयार ने रविवार शाम को एक पूर्व-रिकॉर्डेड संदेश में कहा, ''भ्रष्ट सरकार ने हिंसा छोड़ने और अफगानिस्तान संकट के शांतिपूर्वक समाधान के लिए कोई तैयारी नहीं दिखायी।"

अफगानिस्तान की नेशनल सॉलिडरिटी पार्टी के प्रमुख सैयद इशाक गिलानी ने कहा कि अफगानिस्तान में एक ऐसी व्यवस्था होनी चाहिए जिसमें पिछले दो दशकों की उपलब्धियों को संरक्षित रखा जा सके। उन्होंने कहा, ''अशरफ गनी ने देशद्रोह किया और उन्होंने देश छोड़ दिया। अब उन्हें अपनी सरकार बनाने में जल्दबाजी करनी चाहिए। अन्यथा, लोग चिंतित रहेंगे।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co