बांग्लादेश में मुस्लिम कट्टरपंथियों का इस्‍कॉन मंदिर पर हमला, पूजा पंडाल किया तहस-नहस
बांग्लादेश में मुस्लिम कट्टरपंथियों का इस्‍कॉन मंदिर पर हमला, पूजा पंडाल किया तहस-नहस Priyanka Sahu -RE

बांग्लादेश में मुस्लिम कट्टरपंथियों का इस्‍कॉन मंदिर पर हमला, पूजा पंडाल किया तहस-नहस

बांग्लादेश के नोआखाली इलाके में इस्‍कॉन मंदिर पर मुस्लिम कट्टरपंथियों ने हमला किया और कट्टरपंथी हमलावरों ने इस्‍कॉन के सदस्‍य पार्थ दास की बेहद क्रूर तरीके से हत्‍या की।

बांग्‍लादेश। किसी ना किसी देश सेे हमले जैसी घटनाएं आए दिन सामने आ रही हैं। इस बीच अब बांग्‍लादेश में एक मंदिर में हमले होना की खबर सामने आई है। बांग्‍लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के तमाम दावों के बाद भी देश में हिंदू मंदिरों पर हमले बढ़ते जा रहे हैं। दरअसल, बांग्‍लादेश के नोआखाली इलाके में मुस्लिम कट्टरपंथियों द्वारा इस्‍कॉन मंदिर पर हमला किया गया।

इस्‍कॉन मंदिर के सदस्‍य की क्रूरता से हत्‍या :

बताया जा रहा है कि, एक दिन पहले ही बांग्लादेश में कई दुर्गा पांडालों पर हमला कर तोड़फोड़ की गई थी और इसके बाद नोआखाली इलाके में लगभग 200 मुस्लिम कट्टरपंथियों की भीड़ ने इस्‍कॉन मंदिर पर हमला किया, मंदिर में यह हमला शुक्रवार को किया गया। हमले के कारण मंदिर को भी काफी नुकसान पहुंचा है, इतना ही नहीं हमलावरों ने तो मंदिर के सामने बने दुर्गापूजा पंडाल को भी तहस-नहस करके रख दिया। इस दौरान कट्टरपंथी हमलावरों ने इस्‍कॉन मंदिर के सदस्‍य पार्थ दास की बेहद क्रूरता से हत्‍या कर दी।

इस बारे में इस्‍कॉन की ओर से जारी हुए एक बयान में बताया गया है कि, ''पार्थ का शव मंदिर के पास तालाब में पाया गया है।'' हमले की इस घटना के चलते इस्‍कॉन द्वारा बांग्‍लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हिंदुओं की सुरक्षा की गुहार लगाते हुए दोषियों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की मांग की है।

तो वहीं, इस्‍कॉन से जुड़े राधारमण दास ने ट्वीट कर कहा- पार्थ दास कल से लापता थे और आज सुबह उनका शव तालाब में तैरता हुआ मिला है। उन्‍हें बुरी तरह से पीटा गया था और यही नहीं क्रूरता की सारी हदें पार करते हुए शरीर के हिस्‍सों को निकाल लिया गया था।

अपराधियों के खिलाफ होगी कार्रवाई :

इसके अलावा बांग्लादेशी मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, यह बात भी सामने आई है कि, हमले में 4 लोगों की मौत हो गई, इसके बाद प्रधानमंत्री शेख हसीना के निर्देश पर 22 जिलों में अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है और प्रधानमंत्री शेख हसीना ने देश में सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश करने वालों को कड़ी चेतावनी देते हुए यह वादा किया है कि, कोमिला में सांप्रदायिक हिंसा के अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co