अमेरिका के टेक्सास में ट्रक में मिला शवों का ढेर
अमेरिका के टेक्सास में ट्रक में मिला शवों का ढेरSocial Media

हैरान करने वाली खबर- अमेरिका के टेक्सास में ट्रक में मिला शवों का ढेर

अमेरिका के टेक्सास में सड़क किनारे एक खड़े ट्रक में शवों का ढेर मिला, जिसमें 46 प्रवासियों के शव मिले है। इस मामले में 3 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

अमेरिका, दुनिया। पिछले काफी दिनों से दुनियाभर के देशों से अलग अलग दुर्घटनाओं की खबरें लगातार सामने आ रही है। जिसमें किसी न किसी के जान जाने की खबर शामिल है। इन हादसों में कुछ इस तरह की खबरें भी सामने आती हैं जो दिल दहला देने वाली होती हैं। ऐसा ही एक मामला अमेरिका के सैन एंटोनियो, टेक्सास के एक इलाके से सामने आया है इस हादसे के तहत एक ट्रैक्टर-ट्रेलर के अंदर कम से कम 40 लोग मृत पाए गए। अमेरिका के टेक्सास में सड़क किनारे खड़े इस रैक्टर-ट्रेलर में शवों का ढेर मिला है। यह हैरान कर देने वाला मामला है क्योंकि, एक साथ इतने लोगों की मौत कैसे हुई और ये लाशे कहां से आई। इस तरह के कई सवाल उठ खड़े हुए है।

अमेरिका से सामने आया अजीबो गरीब किस्सा :

दरअसल, अमेरिका के सैन एंटोनियो, टेक्सास में एक ट्रैक्टर-ट्रेलर के अंदर कम से कम 40 लोगों के एक साथ मृत पाए जाने से सनसनी फैल गई है। हर कोई इसी मामले पर बात कर रहा है। इस बारे में सूचना स्थानीय अधिकारियों ने दी है। जबकि मिडिया के हवाले से सामने आई जानकारी में बताया गया है कि, यह लाशों से भरा ट्रैक्टर-ट्रेलर सोमवार की रात शहर के दक्षिणी बाहरी इलाके में एक दूरदराज के इलाके में रेल की पटरियों के पास खड़ा मिला। ये स्थान सैन एंटोनियो यूएस-मेक्सिको सीमा से 250 किमी दूर स्थित बताया जा रहा है। ये मामला किसी बड़ी मर्डर मिस्त्री से कम नहीं बताया जा रहा है।

ट्रक में 46 प्रवासियों के शव मिले :

बताया जा रहा है कि, अमेरिका के टेक्सास में सोमवार को रोड किनारे खड़े एक ट्रक में 46 प्रवासियों के शव मिले है। इस दौरान भनक लगते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और इन्हें निकाला तो इनकी चमड़ी गर्म थी। अधिकारियों के हवाले यह भी बात सामने आई है कि, घटना को लेकर तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। तो वहीं, सैन एंटोनियो अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि, "उन्हें ट्रक में "शवों के ढेर" मिले। ट्रक में पानी का कोई निशान नहीं मिला। ट्रैक्टर के अंदर पाए गए सोलह अन्य लोगों को हीट स्ट्रोक और थकावट के चलते अस्पतालों में ले जाया गया, जिनमें चार नाबालिग शामिल थे, लेकिन मरने वालों में कोई बच्चा नहीं था।"

इसके अलावा सैन एंटोनियो फायर चीफ चार्ल्स हूड ने एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, "जिन रोगियों को हमने देखा, वे गर्म थे, वे हीट स्ट्रोक, थकावट से पीड़ित थे। ये एक रेफ्रिजेरेटेड ट्रैक्टर-ट्रेलर था, लेकिन रिग पर काम करने वाली कोई ए/सी की इकाई नहीं दिखाई दी।"

पास की इमारत में काम करने वाले एक व्यक्ति ने मदद के लिए आवाज सुनी, जिसके बाद वो बाहर आया। उसने ट्रेलर के दरवाजे को आंशिक रूप से खुले हुए पाया। अंदर उसे कई शव दिखाई दिए, जिसके बाद इसकी सूचना पुलिस को दी।

शहर के पुलिस प्रमुख विलियम मैकमैनस

मौतों के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति को ठहराया जिम्मेदार :

अमेरिका के टेक्सास में इस घटना को लेकर टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने शवों के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा- यह मौतें घातक ओपेन बॉर्डर पॉलिसी की वजह से हुई हैं। गर्मियों के महीनों में एंटोनियों शहर का तापमान काफी बढ़ जाता है। सोमवार को यहां 39.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

तो वहीं, मेक्सिको के विदेश मंत्री मार्सेलो एब्रार्ड ने बताया कि, "पीड़ितों की नागरिकता को लेकर अभी कोई जानकारी नहीं मिली है। इनकी पहचान के लिए दूतावास के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच रहे हैं।"

सैन एंटोनियो फायर चीफ का कहना :

सैन एंटोनियो फायर चीफ चार्ल्स हुड ने एक शव की रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि, 'आपातकालीन प्रतिक्रियाकर्ता शुरू में शाम लगभग 6 बजे घटनास्थल पर पहुंचे।' शहर के पुलिस प्रमुख विलियम मैकमैनस ने बताया है कि, 'संघीय एजेंट घटना की जांच करने जा रहे थे। वर्तमान में तीन लोगों को हिरासत में रखा जा रहा है।' दमकल प्रमुख ने बताया है कि, 'वाहन में कोई काम करने वाला एयर कंडीशनिंग नहीं था और अंदर पीने का पानी भी नहीं था।'

सैन एंटोनियो के मेयर का कहना :

सैन एंटोनियो के मेयर रॉन निरेनबर्ग ने कहा कि, 'विकास एक भयावह, मानवीय त्रासदी से कम नहीं था। यह कहते हुए, "उनके पास परिवार थे .. और संभवत: एक बेहतर जीवन खोजने की कोशिश कर रहे थे।" बता दें, इस घटना के बाद सामने आई फोटोज में पुलिस की कई गाड़ियां और एंबुलेंस एक बड़े ट्रक के आसपास नजर आ रहे थे। ये अवैध रूप से अमेरिका में घुसने का मामला माना जा रहा है, क्योंकि जहां ये ट्रक मिला है वह अमेरिका और मैक्सिको बॉर्डर 250 किमी बताया जा रहा है। जबकि, सिटी काउंसिल की प्रमुख एड्रियाना रोचा गार्सिया के अनुसार, ट्रक में मृत पाए गए लोग प्रवासी हैं। किसी को अब तक इनके मरने का कारण पता नही चल सका है। जबकि मामले की जांच अब भी जारी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co