चीन में लांच हुई हवा में तैरने वाली सुपर हाई स्पीड 'Maglev Train'
चीन में लांच हुई हवा में तैरने वाली सुपर हाई स्पीड 'Maglev Train'Social Media

चीन में लांच हुई हवा में तैरने वाली सुपर हाई स्पीड 'Maglev Train'

चीन ने मंगलवार को सुपर हाई स्पील वाली मैगलेव ट्रेन (Maglev Train) लांच कर दी है। इसकी खासियत और स्पीड जानकार आप हैरान रह जाएँगे।

चीन। वैसे तो दुनियाभर में एक से बढ़कर एक हाई स्पीड ट्रेन चल रही है, लेकिन टेक्नोलॉजी के मामले में आज भी चीन का कोई तोड़ नहीं है। चीन पिछले काफी समय से एक से एक टेक्नोलॉजी पेश करती आरही है। इसी कड़ी में अब चीन ने मंगलवार को सुपर हाई स्पील वाली 'मैगलेव ट्रेन' (Maglev Train) लांच कर दी है। इसकी खासियत और स्पीड जानकार आप हैरान रह जाएँगे।

चीन में हुआ मैगलेव ट्रेन का अनावरण :

दरअसल, चीन का नाम आज हर क्षेत्र में अपने द्वारा तैयार की जा रही टेक्नोलॉजी के लिए ही जाना जाता है। इसी टेक्नोलॉजी की मदद से चीन द्वारा तैयार की गई सुपर हाई स्पील वाली मैगलेव ट्रेन का अनावरण चीन ने मंगलवार को किया। चीनी से सामने आई खबरों की मानें तो, इस ट्रेन की सबसे बड़ी खासियत यह है कि, यह ट्रेन 600 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती है। इसके अलावा जब मैगलेव ट्रेन ट्रैक पर चलती है तब यह ट्रेक से थोड़ा ऊपर तैरती हुई नजर आती है। चीन का कहना है कि, उसने इस ट्रेन को लोकल टेक्नोलॉजी के माध्यम से तटीय शहर किंगदाओ में तैयार किया है।

कैसे हवा में तैरती है ट्रेन :

आपको यह सुन कर जरूर हैरानी हुई होगी कि, यह ट्रेन ट्रेक पर चलते समय थोड़ी हवा में उड़ती हुई सी नजर आती है। हालांकि, यह कोई जादू नहीं है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि, यह एक मैगलेव ट्रेन है और यह ट्रेन विद्युत चुंबकीय बल (electro-magnetic force) की मदद से ट्रैक पर चलती है और ऐसा प्रतीत होता है कि, जैसे यह हवा में ऊपर तैर रही हो। इसकी बॉडी का रेल से संपर्क नहीं होता। इतना ही नहीं इसी कारण इस ट्रेन को 'फ्लोटिंग ट्रेन' भी कहा जाता है।

मात्र ढाई घंटे में पहुँचती है शंघाई से बीजिंग :

बताते चलें, चीन में परिवहन के क्षेत्र में मैगलेव ट्रेन जैसी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल पिछले दो दशक से किया जा रहा है। हालांकि, अब तक यह इस्तेमाल काफी सीमित स्तर पर किया जाता रहा है। बता दें, शंघाई में मैगलेव ट्रेन से जाने के लिए एक छोटी सी लाइन बिछी हुई है इसी लाइन के माध्यम से यह ट्रेन शहर से मुख्य एयरपोर्ट तक जाती है। इस ट्रेन की गति 600 किलोमीटर प्रति घंटा होने के कारण यदि हिसाब लगाया जाए तो, इस ट्रेन को शंघाई से बीजिंग जाने में मात्र ढाई घंटे का समय लगेगा। ज्ञात को कि, शंघाई से बीजिंग की दूरी 1000 किलोमीटर से ज्यादा है।

गौरतलब है कि,चीन में सबसे तेज स्पीड की मैगलेव ट्रेन की शुरुआत साल 2003 में की गई थी। तब इसकी इसकी अधिकतम स्पीड 431 किलोमीटर प्रति घंटा थी, लेकिन अब जो ट्रेन चलाई गई है उसकी अधिकतम स्पीड 600 किलोमीटर प्रति घंटा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co