ढाका की हवा को दुनिया की तीसरी प्रदूषित हवा का दर्जा
ढाका की हवा को दुनिया की तीसरी प्रदूषित हवा का दर्जाSocial Media

ढाका की हवा को दुनिया की तीसरी प्रदूषित हवा का दर्जा

बंगलादेश की राजधानी ढाका की हवा को सोमवार सुबह दुनिया की तीसरी सबसे प्रदूषित हवा का दर्जा दिया गया है।

ढाका। बंगलादेश की राजधानी ढाका की हवा को सोमवार सुबह दुनिया की तीसरी सबसे प्रदूषित हवा का दर्जा दिया गया है। ढाका में सुबह 9:40 बजे लिये गये वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) के अनुसार उसे 197 अंक मिले। इस स्तर एक्यूआई हवा को “अस्वास्थ्यकारी ”माना जाता है। एक्यूआई मापदंडों के अनुसार 151 और 200 के बीच को “अस्वस्थ” कहा जाता है। जबकि 201 और 300 को “बहुत अस्वास्थ्याकर” माना जाता है और 301 से 400 को “खतरनाक”माना जाता है, जो निवासियों के लिए गंभीर स्वास्थ्य जोखिम पैदा करता है।

इस लिहाज से पाकिस्तान का लाहौर 234 के साथ पहले और भारत का मुंबई 211 के एक्यूआई के साथ दूसरे स्थान पर रहा है। बंगलादेश में एक्यूआई प्रदुषण पांच मापदंडो पर आधारित है, जिनमे पार्टिकुलेट मैटर (पीएम10 और पीएम 2.5), एनओ2 , सीओ, एसओ2 और ओजोन शामिल है। ढाका लंबे समय से वायु प्रदूषण की समस्या से जूझ रहा है। इसकी वायु गुणवत्ता आमतौर पर सर्दियों में अस्वास्थ्यकर हो जाती है और मानसून के दौरान इसमें सुधार होता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार वायु प्रदूषण हर साल दुनिया भर में अनुमानित 70 लाख लोगों की जान ले लेता है। वायु प्रदूषण के कारण बड़े पैमाने पर हृदयघात , हृदय रोग, क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज, फेफड़ों के कैंसर और तीव्र श्वसन संक्रमण जैसे रोग होते है और मृत्यु दर में वृद्धि का कारण बनते है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co