कोरोना की तबाही से बिफरे ओबामा, ट्रम्‍प बोले-वे 'अयोग्य राष्ट्रपति'
कोरोना की तबाही से बिफरे ओबामा, ट्रम्‍प बोले-वे 'अयोग्य राष्ट्रपति'|Priyanka Sahu -RE
दुनिया

कोरोना की तबाही से बिफरे ओबामा, ट्रम्‍प बोले-वे 'अयोग्य राष्ट्रपति'

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और राष्‍ट्रपति डॉनाल्ड ट्रम्‍प एक दूसरे पर वार-पलटवार कर रहे हैं। ओबामा द्वारा आलोचना किए जाने के बाद बौखलाए ट्रम्‍प बिफरे और ओबामा को 'अयोग्य राष्ट्रपति' बताया।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। वर्तमान में भारत सहित पूरी दुनियाभर के देश चीन से आए कोरोना वायरस की विपदा झेल रहे हैं और सभी देशों की आर्थिक स्थिति अस्‍त-व्‍यस्‍त हो रही है। इसी बीच आलोचनाओं का दौर भी जारी है। वहीं, अमेरिका में विकराल रूप ले चुका कोविड-19 की महामारी से अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रम्‍प वैसे ही बौखलाए हुए हैं और इस वक्‍त वे किसी भी आलोचना को झेल नहीं पा रहे हैं।

आलोचना के बाद ट्रम्‍प का ओबामा पर पलटवार :

दरअसल, बीते दिन ही अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा कोरोना वायरस को लेकर डॉनाल्ड ट्रम्‍प पर भड़के थे और आलोचना की गई थी, जिसका बदला आज US राष्‍ट्रपति ट्रम्‍प ने लिया और उनपर पलटवार करते हुए बराक ओबामा को 'बेहद अयोग्य राष्ट्रपति' बताया है और अपनी प्रतिक्रिया देते हुए यह बात भी कही-

देखिए, वह एक अयोग्य राष्ट्रपति थे। केवल यही मैं कह सकता हूं, बेहद अयोग्य। साथ ही उन्‍होंने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए अपने प्रशासन की वायरस को रोकने के प्रयासों की तारीफ की है और दावा किया है कि, उन्होंने इस दिशा में काफी प्रगति की है।
US राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रम्‍प

इतना ही नहीं ट्रम्‍प ने आगे अपनी प्रतिक्रिया में ये भी कहा कि, ''हमने कई बड़ी बैठकें की हैं कई मोर्चे पर बेहतरीन प्रगति की है, इनमें से इस भयानक बीमारी का इलाज लेकर आना भी शामिल है।''

ओबामा ने कही थी ये बात :

दरअसल, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने एक ऑनलाइन वर्चुअल समारोह में बीते दिन यानी शनिवार को वीडियो लिंक के जरिये बातचीत में सरकार को निशाने पर लेते हुए अपनी प्रतिक्रिया में कहा था कि, इस महामारी से लड़ने के लिए अमेरिका में नेतृत्व की कमी है। यही कारण है कि इस महामारी ने देश को गहरे संकट में डाल दिया है और इस विचार पर से पूरी तरह पर्दा हटा दिया है कि संकट के दिनों में प्रभारी लोग क्या कर रहे हैं? सही बात तो यह है कि उनमें से बहुत से प्रभारी होने का नाटक भी नहीं कर रहे हैं। इस महामारी से निपटने के लिए अमेरिकी प्रशासन के रवैए को ‘अराजक आपदा’ बताया था।

बता दें कि, यहां एक तरफ अमेरिका में कोरोना से मची तबाही को लेकर बराक ओबामा बिफरे और इस महामारी से लड़ने के लिए अमेरिका में नेतृत्व की कमी बताई थी, तो वहीं दूसरी ओर ट्रम्‍प ने अपने प्रशासन की वायरस को रोकने के प्रयासों की तारीफ की है।

अमेरिका में क्‍या है कोरोना के आंकड़ें?

अमेरिका में कोरोना वायरस के आंकड़े की देखें, तो यहां अब तक 89,000 लोग अपनी जान गवां बैठे हैं और 14 लाख से ज्यादा कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co