कोरोना महामारी के बीच ब्रिटेन में एक नई मुसीबत 'H5 बर्ड फ्लू'
कोरोना महामारी के बीच ब्रिटेन में एक नई मुसीबत 'H5 बर्ड फ्लू'Syed Dabeer Hussain - RE

कोरोना महामारी के बीच ब्रिटेन में एक नई मुसीबत 'H5 बर्ड फ्लू'

ब्रिटेन में एक नई मुसीबत नजर आरही है। क्योंकि, मध्य इंग्लैंड में एक पोल्ट्री यूनिट में अत्यधिक खतरनाक H5 बर्ड फ्लू के फैलने की खबर भी सामने आई है। जिसकी पुष्टि देश के कृषि मंत्रालय ने की है।

ब्रिटेन, दुनिया। दुनियाभर के देश अब भी कोरोना वायरस और कोरोना के मिले स्ट्रेन से परेशान है। इस एक साल में सिर्फ इस महामारी के चलते लाखों लोगों की मौत हो चुकी है। ऐसे में अब किसी और बीमारी का सामने आना किसी बहुत बड़ी समस्या से कम नहीं है। इसी बीच ब्रिटेन में H5 बर्ड फ्लू नाम की एक नई मुसीबत नजर आरही है। क्योंकि, मध्य इंग्लैंड में एक पोल्ट्री यूनिट में अत्यधिक खतरनाक H5 बर्ड फ्लू के फैलने की खबर भी सामने आ गई है। जिसकी पुष्टि देश के कृषि मंत्रालय ने की है।

पोल्ट्री यूनिट में फैल रहा H5 बर्ड फ्लू :

जी हां, मध्य इंग्लैंड में एक पोल्ट्री यूनिट में H5 बर्ड फ्लू के फैलने की खबर सामने आई है। H5 बर्ड फ्लू एक अत्यधिक खतरनाक फ्लू है। जिसके देशभर से कुछ मामले सामने आई है। इन मामलों की पुष्टि ब्रिटेन के कृषि मंत्रालय ने की है। इस मामले में सामने आई रिपोर्ट के अनुसार, 'ये सभी संक्रमित पक्षी वारविकशायर (Warwickshire) में अलसेस्टर (Alcester) के करीब एक पोल्ट्री फॉर्म में मौजूद हैं।

मार दिया जाएगा पक्षियों को :

बहुत दुःख की बात है कि, इस संक्रमण से रोकथाम करने के लिए इन सभी पक्षियों को मार दिया जाएगा। बताते चलें, इन दिनों ब्रिटेन द्वारा देश में राष्ट्रव्यापी एवियन इंफ्लुएंजा प्रीवेंशन जोन (Avian Influenza Prevention Zone) कर दिया है और ऐसे में अब यहां से बर्ड फ्लू फैलने की खबरे सामने आ रही है। इन मामलों के मिलने के बाद फॉर्म और पक्षियों की देखरेख करने वाले लोगों को बायोसिक्योरिटी प्रतिबंधों को सख्त करने को कहा गया है।

क्या है बर्ड फ्लू :

बर्ड फ्लू का मतलब एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस होता है। जिसके द्वारा होने वाली इस बीमारी से न केवल पक्षी प्रभावित होते है बल्कि इससे मनुष्य भी प्रभावित हो सकते हैं। इससे सावधानी रखने के लिए हिमाचल प्रदेश में फिलहाल राज्य में मछली, मुर्गे व अंडों की बिक्री पर बैन लगा दिया है। हिमाचल प्रदेश सरकार ने यह कदम हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में अंतरराष्ट्रीय रामसर वेटलैंड पौंग बांध में विदेशी पक्षियों के बर्ड फ्लू से मरने के बाद लिया। हिमाचल के अलावा मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भी भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान ने विदेशी पक्षियों की एच5एन1 फ्लू से मौत होने की पुष्टि की है।

बर्ड फ्लू के लक्षण :

इस बीमारी से सिर्फ पक्षी ही नहीं बल्कि, इंसान भी प्रभावित हो सकते हैं। इस बीमारी के तहत मुर्गियों और संक्रमित पक्षियों के आस-पास रहने वाले इंसान भी पीड़ित हो सकते हैं। इसका वायरस आंख, मुंह और नाक के द्वारा इन्सानों के शरीर में प्रवेश कर जाता है।

  • बर्ड फ्लू के लक्षण आमतौर पर सामान्य फ्लू की तरह ही होते हैं।

  • एच5एन1 ऐसा फ्लू पक्षी के फेफड़ों पर हमला करता है।

  • इससे न्यूमोनिया का खतरा बढ़ जाता है।

  • सांस लेने में तकलीफ होना

  • गले में खराश

  • तेज बुखार

  • मांसपेशियों और पेट दर्द

  • छाती में दर्द

  • दस्त

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co