Raj Express
www.rajexpress.co
#IndiaStandsWithIsrael
#IndiaStandsWithIsrael|ट्विटर
दुनिया

इज़राइल के साथ भारत, ट्रेंड हो रहा #IndiaStandsWithIsrael

इज़राइल और गाज़ा में चल रही लड़ाई के बीच भारत में इज़राइल का साथ देने की आवाज़ें मुखर हो रही हैं। #IndiaStandsWithIsrael के साथ ही #indiawithisrael हैशटैग्स कर रहे ट्रेंड।

प्रज्ञा

प्रज्ञा

राज एक्सप्रेस। इज़राइल ने गाज़ा में फिलिस्तीनी इस्लामिक जिहाद(पीआईजे) के कमांडर बाहा अबू अल-अता को मार गिराया। इसके बाद से इज़राइल और गाज़ा में माहौल बिगड़ गया है। पीआईजे कमांडर की हत्या के बाद गाज़ा ने इज़राइल पर रॉकेट हमले किए।

इन हमलों के बीच भारत में इज़राइल का साथ देने की आवाज़ें मुखर हो रही हैं। ट्विटर पर #IndiaStandsWithIsrael और #indiawithisrael ट्रेंड कर रहा है। इसके साथ ही #IsraelUnderAttack, #IsraelUnderFire, #IslamicJihad भी ट्रेंड कर रहे हैं।

भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने इज़राइल के समर्थन में ट्वीट कर कहा कि, 'आतंकवाद की इस लड़ाई में वो इज़राइल के साथ हैं।'

इज़राइल की तरफ से किए गए हमले में पीआईजे कमांडर अबु अल-अता के साथ चार और फिलिस्तीनियों की मौत हुई थी। गाज़ा ने 12 नवंबर 2019 की सुबह से इज़राइल में कई रॉकेट हमले किए। जिसके मद्देनज़र विद्यालयों को बंद कर दिया गया है। साथ ही व्यापार व्यवस्था भी ठप्प है। हज़ारों इज़राइलियों ने बॉम्ब-प्रूफ रूम्स में शरण ली है।

इज़राइल विदेश मंत्रालय ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी-

इज़राइल डिफेंस फोर्सेस ने ट्वीट कर गाज़ा द्वारा किए जा रहे हमलों की निंदा की।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गाज़ा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि इज़राइल द्वारा किए गए हमले में 30 फिलिस्तीनी नागरिक घायल हुए हैं। वहीं इज़राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने तेल अवीव में हुए एक समाचार सम्मेलन में कहा कि, 'अबू अल-अता एक चलता-फिरता बम था। हम लंबी अवधि की लड़ाई के लिए तैयार हैं।'

"जो भी यह सोचता है कि वो हमारे नागरिकों को मार कर हमसे बच सकता है, वह गलत है। हमने साबित किया है कि आतंकवादी चाहे कहीं भी छिपे हों, हम सर्जिकल रूप से उन्हें मार सकते हैं। जो भी हमें नुकसान पहुंचाएगा, हम उन्हें नुकसान पहुंचाएंगे।"

बेंजामिन नेतन्याहू, प्रधानमंत्री (इज़राइल)

इज़राइल का विदेश मंत्रालय लगातार ट्वीट्स कर दुनिया को गाज़ा द्वारा दिए जा रहे हमलों की जानकारी दे रहा है। साथ ही वे अपने आपको बचाने के अधिकार का प्रयोग करने की बात कर रहे हैं। उनका कहना है कि इज़राइल आतंकवाद के सामने झुकेगा नहीं और उसका डंट कर सामना करेगा।

वहीं गाजा में फिलिस्तीनी समूहों ने एक संयुक्त बयान जारी कर कहा कि, इज़राइल ने "सभी लाल रेखाओं" को पार कर लिया है और उन्हें इसके परिणाम भुगतने होंगे। अबू अल-अता के अंतिम संस्कार में, वरिष्ठ पीआईजे अधिकारी खालिद अल-बत्श ने कहा कि इज़राइल ने "युद्ध की घोषणा" जारी की है।

लोग भारत में इज़राइल का साथ देने की बात कर रहे हैं। एक ट्विटर यूज़र ने लिखा कि इज़राइल ने कारगिल युद्ध में भारत का साथ दिया था तो अब भारत की बारी है कि वो इज़राइल का साथ दे।

अंशुल सक्सेना ने लिखा कि, पिछले 24 घंटे से इज़राइल में गाज़ा आतंकवादियों द्वारा रॉकेट हमले हो रहे हैं क्योंकि इज़राइल ने फिलिस्तीनी इस्लामिक जिहाद(पीआईजे) के कमांडर बाहा अबु अल-अता को मार गिराया।