अमेरिका की कमान जो बाइडेन के हाथ- कुछ घंटों बाद लेंगे राष्ट्रपति पद की शपथ
अमेरिका की कमान जो बाइडेन के हाथ- कुछ घंटों बाद लेंगे राष्ट्रपति पद की शपथPriyanka Sahu -RE

अमेरिका की कमान जो बाइडेन के हाथ- कुछ घंटों बाद लेंगे राष्ट्रपति पद की शपथ

अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प की विदाई के बाद अब नए राष्ट्रपति जो बाइडेन आज 20 जनवरी को अगले कुछ ही घंटों बाद 46वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेंगे...

अमेरिका। दुनिया का सबसे पुराना लोकतंत्र अमेरिका एक नए इतिहास में प्रवेश करने का जा रहा है।अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प का कार्यकाल खत्म हो गया है और अब अगले कुछ घंटों बाद ही अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में जोरदार बहुमत से जीतने वाले जो बाइडेन US के नए प्रेसिडेंट बन जाएंगे। डॉनल्ड ट्रम्प के बाद अब अमेरिका की सत्ता प्रेसिडेंट-इलेक्ट जो बाइडेन के हाथों में जाने वाली है।

कब शपथ लेंगे जो बाइडेन :

अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन आज बुधवार (20 जनवरी) को अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने वाले हैं। भारतीय समय के अनुसार, मुख्य न्यायाधीश जॉन रॉबर्ट्स रात के 12 बजते ही कैपिटल के वेस्ट फ्रंट में जो बाइडेन को पद की शपथ दिलाएंगे। जो बाइडेन के राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद कमला हैरिस पहली महिला उपराष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेंगीं।

बाइडेन और हैरिस के शपथ लेने के बाद नव निर्वाचित राष्ट्रपति का उद्घाटन संबोधन होगा। इस दौरान अपने संबोधन में जो बाइडेन अगले 4 सालों के राष्ट्रपति कार्यकाल का विजन बताएंगे। वह कोविड19 से जंग, अमेरिकी इकोनॉमी को मजबूत बनाने और राष्ट्र की एकता को बनाए रखने के लिए अपनी योजनाओं पर भी रोशनी डालेंगे।

ट्रम्प ने बाइडेन को दी जी की बधाई :

तो वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में जीत को लेकर अपना अड़ियल रवैया अपनाने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्‍प का कार्यकाल खत्म होने के बाद मंगलवार को विदाई भाषण दिया, जिसमें उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। साथ ही जाते-जाते डॉनल्ड ट्रम्प ने जो बाइडेन को जीत की बधाई दीं।

इस सप्ताह हमने एक नए प्रशासन का आरंभ किया। अमेरिका को सुरक्षित रखने और समृद्ध बनाने के लिए उनकी सफलता की कामना करता हूं। हम उन्हें शुभकामनाएं देते हैं और चाहते हैं कि वे सौभाग्यशाली रहें।

डॉनल्ड ट्रम्प

विदाई भाषण के दौरान ट्रम्प ने ये कहा कि, ''मुझे बिना किसी युद्ध के दशक का पहला राष्ट्रपति होने पर गर्व है। उन्होंने कहा कि हमने अमेरिका की ताकत को घर में कायम किया और बाहर भी अमेरिकी लीडरशिप को नई ऊंचाइयों तक ले गए। हमनें दुनिया को चीन के खिलाफ एकजुट किया, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co