जॉर्डन में लॉकडाउन को हटाने का ऐलान, लागू रहेगा आंशिक रूप से कर्फ्यू
जॉर्डन में लॉकडाउन को हटाने का ऐलान, लागू रहेगा आंशिक रूप से कर्फ्यूSocial Media

जॉर्डन में लॉकडाउन को हटाने का ऐलान, लागू रहेगा आंशिक रूप से कर्फ्यू

जॉर्डन देश में लॉकडाउन को हटाने का ऐलान कर दिया गया है। हालांकि, यहां अभी भी सामने आरहे मामलों को देखते हुए आंशिक रूप से कर्फ्यू को लागू रखने का फैसला लिया गया है।

जॉर्डन। जहां, आज पूरी दुनिया में कोरोना का आतंक छाया हुआ है, ऐसे में कुछ देशों में हालात अब काबू में आते नजर आरहे हैं। हाल हि में इजरायल देश के कोरोना से मुक्त होने की खबर सामने आई थी वहीं, अब जॉर्डन देश में भी लॉकडाउन को हटाने का ऐलान कर दिया गया है। हालांकि, आंशिक रूप से कर्फ्यू को लागू रखने का फैसला लिया गया है।

लॉकडाउन को हटाने का ऐलान :

दरअसल, जॉर्डन में कोरोना के मामलों में अब पहले की तुलना में काफी हद्द तक कमी दर्ज की जा रही है और वैक्सीनेशन अभियान को तेज कर दिया गया है। इसी बीच यहां शुक्रवार को सभी सार्वजनिक पार्कों को फिर से खोलने और लॉकडाउन हटाने का फैसला लिया गया है। जॉर्डन की राजधानी अम्मान में से इस बारे में जानकारी देते हुए राज्यमंत्री ने घोषणा की। बता दें, जॉर्डन के मीडिया मामलों के राज्यमंत्री सखेर डुडिन ने कहा कि, 'देश में 30 अप्रैल से लॉकडाउन हटा दिया जाएगा, लेकिन आंशिक रूप से कर्फ्यू लागू रहेगा, लेकिन प्रार्थना करने वालों को ईशा और तरावीह प्रार्थना के लिए पैदल मस्जिदों में जाने की अनुमति होगी।' इसके अलावा कई स्थान अभी भी बंद रहेंगे।

जुलाई तक खोले जा सकेंगे सभी क्षेत्र :

जॉर्डन में भले ही लॉकडाउन हटाने का फैसला ले लिया गया हो, लेकिन यहाँ अभियान को प्रतिबंधित करने सहित सरकार द्वारा उठाए गए सभी एहतियाती उपायों से गर्मियों तक सुरक्षित पहुंचने का लक्ष्य रखा गया है। इस अभियान का पालन करने पर जॉर्डन में जुलाई की शुरुआत तक सभी क्षेत्रों को खोला जा सकेगा। इस मामले में राज्यमंत्री ने कहा कि, 'सरकार सितंबर तक स्कूलों और यूनिवर्सिटी को फिर से शुरू करने की इच्छुक है। इसके तहत सरकार ने अपनी सुरक्षा और स्टूडेंट्स की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पहले ही 1,60,000 शिक्षकों के टीकाकरण अभियान भी शुरू कर दिया है।'

जॉर्डन में मौत का आंकड़ा :

बताते चलें, जॉर्डन के स्वास्थ्य मंत्री फारेस हवारी ने बताया है कि, किसी भी सरकारी प्रक्रिया को महामारी विज्ञान की स्थिति पर विचार करने के लिए दो से तीन सप्ताह की आवश्यकता होती है। देश में 2,00,000 लोग समय पर वैक्सीन की पहली डोज लेने में विफल रहे हैं। जॉर्डन ने बुधवार को मौत का आंकड़ा 47 लोगों का था। इस प्रकार यहां अब तक कुल 8,754 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि नए मामले 1,910 सामने आये थे, जिनके बाद अब जॉर्डन में कुल मामले 7,08,265 सामने आ चुके है। यहां भी वैक्सीनेशन जारी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co