Raj Express
www.rajexpress.co
जस्टिस गुलज़ार अहमद बने पाकिस्तान के 27वें मुख्य न्यायाधीश
जस्टिस गुलज़ार अहमद बने पाकिस्तान के 27वें मुख्य न्यायाधीश|Dawn
दुनिया

जस्टिस गुलज़ार अहमद बने पाकिस्तान के 27वें मुख्य न्यायाधीश

शनिवार, 21 दिसंबर 2019 को जस्टिस गुलज़ार अहमद ने पाकिस्तान के 27वें मुख्य न्यायाधीश के तौर पर शपथ ली। उन्होंने जस्टिस अहमद आसिफ सईद खोसा का स्थान लिया।

प्रज्ञा

प्रज्ञा

राज एक्सप्रेस। शनिवार, 21 दिसंबर 2019 को जस्टिस गुलज़ार अहमद ने पाकिस्तान के 27वें मुख्य न्यायाधीश के तौर पर शपथ ली। उन्होंने जस्टिस अहमद आसिफ सईद खोसा का स्थान लिया, जो एक दिन पहले शुक्रवार रात को सेवानिवृत्त हुए। पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने आज उन्हें इस्लामाबाद के इवान-ए-सदर में शपथ दिलाई।

शपथ समारोह में प्रधानमंत्री इमरान खान, उनकी कैबिनेट के मंत्रीगण, सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

समाचार रिपोर्ट्स के मुताबिक, इनके अलावा पाकिस्तान के पूर्व मुख्य न्यायाधीश इफ्तिखार चौधरी भी शपथ समारोह में शामिल हुए। इससे एक दिन पहले ही पाकिस्तान की एक विशेष अदालत ने पूर्व तानाशाह राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ के खिलाफ राजद्रोह के एक मामले में विस्तृत फैसला सुनाया, जिसमें खोसा ने कहा था कि न्यायपालिका के खिलाफ एक दुर्भावनापूर्ण अभियान शुरू किया गया है, लेकिन सच्चाई की हमेशा जीत होगी।

मुख्य न्यायाधीश गुलज़ार अहमद का कार्यकाल 21 फरवरी 2022 तक रहेगा। पाकिस्तान के कानून मंत्रालय ने जस्टिस अहमद की नए चीफ जस्टिस पद पर नियुक्ति को इस माह के शुरुआत में मंजूरी दी थी।

जस्टिस अहमद का जन्म 2 फरवरी 1957 को कराची में हुआ था। उनके पिता भी एक ख्याति प्राप्त वकील थे। पाकिस्तान के सर्वोच्च न्यायालय की वेबसाइट के अनुसार, उन्होंने अपनी शुरुआती शिक्षा कराची के गुलिस्तान स्कूल से पूरी की।

जस्टिस अहमद ने कराची के गवर्मेंट नेशनल कॉलेज से बीए की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद कराची के एस. एम. लॉ कॉलेज से उन्होंने वकालत की पढ़ाई की। वकालत की पढ़ाई पूरी करने के बाद वे साल 1988 में हाईकोर्ट और 1991 में सुप्रीम कोर्ट के वकील बने। साल 1999-2000 के लिए सिंध उच्च न्यायालय के बार एसोसिएशन, करांची ने उन्हें मानद सचिव के रूप में भी चुना गया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।