Israel- Hamas Conflict
Israel- Hamas Conflict Raj Express

Israel- Hamas Conflict : इजरायल ने फिलिस्तीन के 30 कैदियों को किया रिहा, युद्धविराम के बाद फिर हमला

Israel- Hamas Conflict : इजरायल की सेना ने कहा कि उसने हमास के साथ संघर्ष विराम समाप्त होने के कुछ मिनट बाद गाजा पट्टी पर हमले फिर से शुरू कर दिए हैं।

हाइलाइट्स

  • संघर्ष विराम के कुछ देर बाद इजरायल की ओर से गाजा पट्टी पर हमले फिर से शुरू।

  • इजरायल ने फिलिस्तीन के 23 बच्चे और सात महिला कैदियों को किया रिहा।

Israel- Hamas Conflict : यरुशलम। गाजा में अपने अस्थायी संघर्षविराम को एक और दिन बढ़ाने के समझौते के तहत हमास द्वारा अतिरिक्त बंदियों को मुक्त करने के कुछ घंटों बाद इजरायल के अधिकारियों ने शुक्रवार को फिलिस्तीन के 30 कैदियों को रिहा कर दिया। वहीं हमास के साथ संघर्ष विराम के कुछ देर बाद इजरायल की ओर से गाजा पट्टी पर हमले फिर से शुरू कर दिए गए।

जानकारी के मुताबिक हमास द्वारा इजरायल के आठ बंदियों को मुक्त करने के कुछ घंटों बाद इजरायल ने फिलिस्तीन के 23 बच्चे और सात महिलाएं सहित 30 कैदियों को रिहा कर दिया है। फिलिस्तीनी कैदियों को ले जा रही एक बस के वेस्ट बैंक के कब्जे वाले शहर रामल्ला पहुंचने पर कैदियों का स्वागत किया गया, जहां कई फिलिस्तीनी नागरिक पहले से ही मौजूद थे। जिनमें से कुछ लोगों के हाथ में हमास का हरा झंडा था।

गौरतलब है कि, इजरायल के अधिकारियों के मुताबिक हमास ने गुरुवार को पहली रिहाई में दो इजरायल की बंदी महिलाओं को रिहा किया था, इसके बाद शाम को 6 और बंदियों को रिहा किया गया। दोनों पक्षों की ओर से 24 नवंबर को संघर्ष विराम लागू करने के बाद से हमास ने 80 इजरायली नागरिकों सहित 110 बंदियों को मुक्त कर दिया है। मुक्त कराए गए 30 गैर-इजरायल बंदियों में से अधिकांश थाईलैंड से थे, जिन्हें एक अलग समझौते के तहत रिहा किया गया था। इसके बदले में इजरायल ने फलिस्तीन के 240 कैदियों को रिहा किया है।

इजरायल की सेना ने कहा कि उसने हमास के साथ संघर्ष विराम शुक्रवार को स्थानीय समयानुसार सुबह सात बजे समाप्त होने के कुछ मिनट बाद गाजा पट्टी पर हमले फिर से शुरू कर दिए हैं। इजरायल की ओर से गाजा पट्टी पर ताजा हमले में छह लोगों की मौत हो गयी है और कई अन्य घायल हो गए हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co