पाक में इकोनॉमी पर दिख रहा मानसूनी बारिश का असर
पाक में इकोनॉमी पर दिख रहा मानसूनी बारिश का असरSocial Media

पाक में इकोनॉमी पर दिख रहा मानसूनी बारिश का असर, तेजी से बढ़ रही महंगाई

इस साल के आखिरी कुछ महीने भी पाक के लिए मुश्किलें खड़ी करने वाले साबित होंगे। क्योंकि, यहां मानसूनी बारिश के चलते महंगाई से बुरे हालात बने है। यहां की इकोनॉमी सीधे तौर पर गिरती नज़र आ रही है।

पाकिस्तान, दुनिया। पाकिस्तान की हालत कर्ज के चलते पहले ही कुछ सही नहीं चल रही थी और अब यह बढ़ती महंगाई। पाक में महंगाई इस कदर आसमान छू रही है कि, वहां बढ़ती महंगाई को देखते हुए लग रहा है कि, इस साल का आखिरी कुछ महीने भी पाक के लिए मुश्किलें खड़ी करने वाले साबित होंगे। हालांकि, यहां यह हालात महंगाई मानसूनी बारिश के चलते बने है। यहां की इकोनॉमी सीधे तौर पर गिरती नज़र आ रही है।

पाक में बारिश का असर इकोनॉमी पर :

भारत के कई राज्यों में भारी बारिश के चलते बहुत बुरा हाल है। ठीक यही स्थिति इस समय भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान की भी बनी हुई है। क्योंकि, इन दिनों पाक में भी बारिश से बेहाली का मंजर छाया हुआ है। पाक के कुछ शहर बुरी तरह तेज बारिश के चलते बाढ़ की चपेट में आ चुके है। यहां अब तक 1000 से ज्यादा लोगों के जान जाने की खबर तक सामने आ चुकी है। वहीं, अब इस बारिश का कहर यहां की इकोनॉमी पर भी तेजी से पड़ता नज़र रहा है। क्योंकि, यहां, महंगाई इस कदर आसमान छूती नज़र आ रही है कि, आर्थिक वृद्धि दर यानी GDP के अनुमानित आंकड़ों अब सरकार की टेंशन बढ़ाने लगे है। इस मामले में सामने आई मीडिया रिपोर्ट की मानें तो, 'पाकिस्तान का एक-तिहाई हिस्सा बाढ़ में डूब गया है जिससे करीब 30 अरब डॉलर रहने का नुकसान होने का अनुमान लगाया गया है।'

GDP के आंकड़े में 2% की गिरावट :

बताते चलें, पाकिस्तान इन दिनों गहन संकट की स्थिति में नज़र आ रहा है। क्योंकि, यहां GDP की वृद्धि दर के आंकड़ों में 2% की गिरावट आने की आशंका जताई जा रही है। जबकि, वित्त वर्ष 2022-23 में पाकिस्तान की GDP वृद्धि दर 5% रहने की संभावना थी, लेकिन यहां आई बाढ़ के चलते 3% ही रहने की ही उम्मीद हैं।

PBS द्वारा जारी किए गए आंकड़े :

पाकिस्तान सांख्यिकी ब्यूरो (PBS) द्वारा जारी किए आंकड़ों के अनुसार, 8 सितंबर को समाप्त सप्ताह में यहां महंगाई सालाना आधार पर 42.7% दर्ज हुई है। तेज बारिश और बाढ़ के कारण यहां सब्जियों की कीमत आसमान छू रही है। साप्ताहिक आधार पर LPG, आटा, अंडा, ग्रेड और दाल की कीमतें भी काफी बढ़ी हैं। पिछले सप्ताह में महंगाई दर 45.5% थी, जो कि, अब तक का सबसे उच्च स्तर है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co