विस्वासं को भी वैक्सीन पर नहीं विश्वास!
विस्वासं को भी वैक्सीन पर नहीं विश्वास!|Syed Dabeer Hussain - RE
दुनिया

वैक्सीन की कोई गारंटी नहीं : TAG

Covid-19 उपचारार्थ लगभग 200 वैक्सीन नैदानिक और प्रीक्लीनिकल परीक्षण दौर में हैं। टीके के विकास का इतिहास गवाह है; कुछ असफल और कुछ सफल होंगे।

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स –

  • विस्वासं को नहीं विश्वास

  • वैक्सीन असरकारक है या नहीं!

  • टेडरोस अधनोम घेब्रेयेसस का आग्रह

  • सभी देश मिलकर खोजें उपचार – WHO

राज एक्सप्रेस। कोरोना वायरस बीमारी-19 (Covid-19) से बचाव के लिए विकसित किए जा रहे टीके बन भी जाएं तो भी इनकी कोई गारंटी नहीं है। विकास के दौर से गुजर रहे ये टीके काम करेंगे या नहीं इस पर फिलहाल संशय है। ये बयान WHO प्रमुख ने मंगलवार को दिया।

काम करेंगे या नहीं? -

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन यानी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO, विस्वासं) प्रमुख टेडरोस अधनोम घेब्रेयेसस (TAG) ने मंगलवार को कहा कि स्वास्थ्य संगठन के पास इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि कोरोना वायरस रोग (Covid-19, कोविड-19) के लिए विकसित किए जा रहे वैक्सीन्स काम करेंगे या नहीं।

वर्चुअल प्रेस ब्रीफिंग -

डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने एक आभासी प्रेस ब्रीफिंग (virtual press briefing) के दौरान कहा, "हमारे पास इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि विकसित किये जा रहे वैक्सीन्स में से कोई भी वैक्सीन काम करेगा। एक सुरक्षित और प्रभावकारी वैक्सीन के लिए हम जितने अधिक परीक्षण करेंगे, उतने अधिक मौके हमारे पास होंगे।"

उन्होंने कहा कि इस बीमारी से निजात पाने के लिए तकरीबन दो सैकड़ा वैक्सीन उम्मीदवारों को तैयार किया जा रहा है।

“कोविड-19 के लिए लगभग 200 वैक्सीन वर्तमान में नैदानिक और प्रीक्लिनिकल परीक्षण (clinical and preclinical testing) में हैं। टीके (vaccine) के विकास का इतिहास गवाह है; कुछ असफल और कुछ सफल होंगे।”

टेडरोस अधनोम घेब्रेयेसस, प्रमुख, विस्वासं (WHO)

सक्षम तंत्र -

WHO, वैश्विक वैक्सीन गठबंधन समूह Gavi के साथ समन्वय में है और महामारी के नवाचारों की तैयारी के लिए गठबंधन (CEPI) ने भविष्य में सभी देशों में किसी भी कोविड टीके के समान वितरण को सक्षम करने के लिए एक तंत्र बनाया है।

WHO प्रमुख ने कहा कोवैक्स सुविधा (Covax facility) सरकारों को वैक्सीन विकास में उनकी पहुंच के प्रसार में सक्षम और उनकी जनसंख्या तक प्रभावी टीकों की जल्दी पहुंच को सुनिश्चित करती है।

स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ने कहा कि इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि "कोवैक्स सुविधा एक ऐसा तंत्र है जो वैश्विक स्तर पर समन्वित रोल को सबसे बड़े संभावित प्रभाव के लिए सक्षम करेगा।"

वैक्सीन खोज प्रतियोगिता नहीं समन्वय –

देशों को यह याद दिलाते हुए कि; कोविड-19 संबंधी इलाज खोजने की दौड़ प्रतियोगिता नहीं समन्वित सहयोग है। उन्होंने कहा -

“यह दान नहीं है। इसमें सभी देशों का हित जुड़ा है। हम डूबते हैं या हम एक साथ तैरते हैं। महामारी को समाप्त करने और वैश्विक आर्थिक सुधार में तेजी लाने का सबसे तेज मार्ग यह सुनिश्चित करना है कि सभी देशों में कुछ लोगों को टीका लगाया जाए, न कि कुछ देशों के सभी लोगों को।"

टेडरोस अधनोम घेब्रेयेसस, प्रमुख, विस्वासं (WHO)

घेब्रेयेसस ने कहा, "कोवैक्स सुविधा महामारी को नियंत्रण में लाने, जीवन बचाने और आर्थिक सुधार को आगे बढ़ाने में मदद करेगी और यह सुनिश्चित करेगी कि कोविड -19 वैक्सीन के लिए दौड़ एक सहयोग है किसी तरह की कोई प्रतियोगिता नहीं।

मिलकर सुलझाएं प्रश्नावली -

डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कोरोना वायरस प्रश्नावली सुलझाने में जुटे देशों से Covid-19 का उपचार खोजने के लिए मिलकर आगे बढ़ने का आग्रह किया। उन्होंने इंगित किया कि देशों की दिलचस्पी सर्वाधिक रूप से कोविड-19 का इलाज खोजने में होनी चाहिए।

डिस्क्लेमर – आर्टिकल प्रचलित रिपोर्ट्स पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co