इस्लामोफोबिक कंटेंट को लेकर पाक सरकार ने लिखा Facebook CEO को पत्र

#Islamophobia :पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने Facebook पर पोस्ट किए जा रहे इस्लामोफोबिक कंटेट पर आपत्ति जताते हुए Facebook CEO मार्क जुकरबर्ग को पत्र लिखा है।
इस्लामोफोबिक कंटेंट को लेकर पाक सरकार ने लिखा Facebook CEO को पत्र
#IslamophobiaSyed Dabeer Hussain - RE

पकिस्तान। पकिस्तान की इमरान खान सरकार सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के कंटेंट पर आपत्ति जताने को लेकर पहले ही चर्चा में रहती हैं। हाल ही में पाक सरकार TikTok के कंटेंट को लेकर चर्चा में थी। वहीं, अब पाक प्रधानमत्री इमरान खान ने इस्लामोफोबिक कंटेट को लेकर Facebook CEO मार्क जुकरबर्ग को पत्र लिखा। इमरान खान ने यह पत्र अपने ट्वीटर अकाउंट द्वारा लिखा है।

क्या है मामला ?

दरअसल, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने Facebook पर पोस्ट किए जा रहे हैं इस्लामोफोबिक कंटेट पर आपत्ति जताते हुए Facebook CEO मार्क जुकरबर्ग को पत्र लिखा है। इस पत्र में इमरान खान ने लिखा कि,

'देश में बढ़ते इस्लामोफोबिया के चलते दुनियाभर में चरमपंथ और हिंसा को बढ़ावा मिल रहा है और ये बढ़ावा Facebook जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए से ज्यादा देखने को मिल रहा है। जिस तरह Facebook ने यूरोपीय यहूदियों के नरसंहार से जुड़ा कंटेंट बैन किया है, ऐसे ही इस्लामोफोबिया से जुड़ा कंटेंट बैन कर देना चाहिए।'
इमरान खान, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री

कंटेंट बैन करने की मांग :

पाक PM इमरान खान ने अपने पत्र Facebook के CEO से मांग की है कि, वह अपने प्लेटफॉर्म पर पोस्ट होने वाले इस्लाम को लेकर नफरत पैदा करने या फैलाने वाले कंटेट को बैन करें। आप इस पत्र को पाक PM इमरान खान के ट्विटर हैंडल पर देख सकते है। उन्होंने इस पत्र में हॉलोकास्ट पर चर्चा करते हुए लिखा है कि, Facebook ने जिस तरह हॉलोकास्ट पर किसी तरह के सवाल करने पर बैन लगाया है हमारी मांग भी यही है कि, Facebook से इस्लामोफोबिया पर रोक लगाई जाए।

इमरान खान का कहना :

इस बारे में पाकिस्तानी PM इमरान खान का कहना है कि, 'Facebook एक ऐसा जरिया है इस पर पोस्ट होने वाले कंटेंट से लोग बहुत आसानी से प्रभावित हो जाते है और Facebook पर इस्लामोफोबिया कंटेंट लोगों में इस्लाम को लेकर नफरत फैला रहीं है। जो कि, बहुत गलत है। साथ ही इमरान सरकार ने हॉलोकास्ट के मुद्दे पर कहा कि, हमें बहुत खुशी है कि, Facebook ने पहले ही इससे जुड़े कंटेट पर रोक लगा दी। मैं और पाकिस्तान सरकार चाहती है कि, ठीक पहले की तरह ही इस्लाम के खिलाफ नफरत पैदा करने वाले कंटेट पर भी रोक लगाई जाए।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co