बांग्लादेश के ओराकांडी में प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन, किए ये बड़े ऐलान
बांग्लादेश के ओराकांडी में प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन, किए ये बड़े ऐलानTwitter

बांग्लादेश के ओराकांडी में प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन, किए ये बड़े ऐलान

बांग्लादेश के ढाका में सामुदायिक स्वागत समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिस्‍‍‍सा लिया और ओराकांडी में मतुआ समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए उन्‍होंने क्‍या खास विचार दिए, यहां देखें...

बांग्लादेश। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बांग्लादेश दौरे का आज दूसरा व अंतिम दिन है। इस दौरान सतखीरा में जशोरेश्वरी काली मंदिर के बाद उन्‍होंने ओरकांडी मंदिर में पूजा की, फिर बांग्लादेश के ढाका में सामुदायिक स्वागत समारोह में हिस्‍‍‍सा लिया।

गुरुचान्द ठाकुर जी के चरणों में शीश झुकाकर नमन :

बांग्लादेश के ओराकांडी में मतुआ समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- आज श्री हॉरिचान्द ठाकुर जी की कृपा से मुझे ओराकान्डी ठाकुरबाड़ी की इस पुण्यभूमि को प्रणाम करने का सौभाग्य मिला है। मैं श्री हॉरिचान्द ठाकुर जी, श्री गुरुचान्द ठाकुर जी के चरणों में शीश झुकाकर नमन करता हूँ। किसने सोचा था कि भारत का प्रधानमंत्री कभी ओराकान्डी आएगा। मैं आज वैसा ही महसूस कर रहा हूं, जो भारत में रहने वाले ‘मॉतुवा शॉम्प्रोदाई’ के मेरे हजारों-लाखों भाई-बहन ओराकान्दी आकर महसूस करते हैं।

इस दिन की प्रतीक्षा मुझे कई वर्षों से थी, 2015 में जब मैं प्रधानमंत्री के तौर पर पहली बार बांग्लादेश आया था, तभी मैंने यहां आने की इच्छा प्रकट की थी। मेरी वो इच्छा आज पूरी हुई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

PM मोदी ने कहा- पश्चिम बंगाल में ठाकुर नगर में जब मैं गया था, तो वहाँ मेरे मॉतुवा भाइयों-बहनों ने मुझे परिवार के सदस्य की तरह प्यार दिया था। विशेष तौर पर ‘बॉरो-माँ’ का अपनत्व, माँ की तरह उनका आशीर्वाद, मेरे जीवन के अनमोल पल रहे हैं। भारत और बांग्लादेश दोनों ही देश अपने विकास से, अपनी प्रगति से पूरे विश्व की प्रगति देखना चाहते हैं। दोनों ही देश दुनिया में अस्थिरता, आतंक और अशांति की जगह स्थिरता, प्रेम और शांति चाहते हैं। यही मूल्य, यही शिक्षा श्री हॉरिचान्द देव जी ने हमें दी थी।

श्री हॉरिचान्द देव जी की शिक्षाओं को जन-जन तक पहुंचाने में, दलित-पीड़ित समाज को एक करने में बहुत बड़ी भूमिका उनके उत्तराधिकारी श्री श्री गुरुचॉन्द ठाकुर जी की भी है। श्री श्री गुरुचॉन्द जी ने हमें ‘भक्ति, क्रिया और ज्ञान’ का सूत्र दिया था।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

बांग्लादेश के ढाका में PM मोदी द्वारा कही गई बातें-

  • गुलामी के उस दौर में भी श्री श्री हॉरिचान्द ठाकुर जी ने समाज को ये बताया कि हमारी वास्तविक प्रगति का रास्ता क्या है। आज भारत हो या बांग्लादेश सामाजिक एकजुटता, समसरता के उन्हीं मंत्रों से विकास के नए आयाम छू रहे हैं।

  • भारत के मेरे भाई-बहनों के लिए ये तीर्थ यात्रा और आसान बने, इसके लिए भारत सरकार की तरफ से प्रयास और बढ़ाए जाएंगे। ठाकूरनगर में मौतुवा संप्रदाय के गौरवशाली इतिहास को प्रतिबिंबित करते भव्य आयोजनों और विभिन्न कार्यों के लिए भी हम संकल्पबद्ध हैं।

  • आज भारत और बांग्लादेश के सामने जिस तरह की समान चुनौतियां हैं, उनके समाधान के लिए हरिचंद देव जी की प्रेरणा बहुत अहम है। दोनों देशों का साथ मिलकर हर चुनौती का मुकाबला करना जरूरी है।

  • आज भारत और बांग्लादेश दोनों देश कोरोना का मजबूती से मुकाबला कर रहे हैं। मेड इन इंडिया वैक्सीन बांग्लादेश के नागरिकों तक भी पहुंचे, भारत इसे अपना कर्तव्य समझ के कर रहा है।

  • मुझे विश्वास है श्री श्री हॉरिचान्द देव जी के आशीर्वाद से, श्री श्री गुरुचॉन्द जी की प्रेरणा से हम दोनों देश 21वीं सदी के इस महत्वपूर्ण कालखंड में अपने इन साझा लक्ष्यों को हासिल करेंगे। भारत और बांग्लादेश प्रगति और प्रेम के पथ पर दुनिया का पथ प्रदर्शन करते रहेंगे।

  • ओराकांडी में भारत सरकार लड़कियों के मिडिल स्कूल को अपग्रेड करेगी और भारत सरकार द्वारा यहां एक प्राइमरी स्कूल भी स्थापित किया जाएगा। ये भारत के करोड़ों लोगों की तरफ से हरिचंद ठाकुर जी को श्रद्धांजलि है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co