जशोरेश्वरी काली मंदिर में पूजा कर PM मोदी ने मंदिर को लेकर किया ये बड़ा ऐलान
जशोरेश्वरी काली मंदिर में पूजा कर PM मोदी ने मंदिर को लेकर किया ये बड़ा ऐलानPriyanka Sahu -RE

जशोरेश्वरी काली मंदिर में पूजा कर PM मोदी ने मंदिर को लेकर किया ये बड़ा ऐलान

बांग्लादेश दौरे के दूसरे दिन प्रधानमंत्री मोदी ने जशोरेश्वरी काली मंदिर में मंत्रोच्चार के साथ पूजा की। इसके बाद कहा-मंदिर परिसर में कम्युनिटी हॉल की जरूरत है, भारत यहां पर इस निर्माण कार्य को करेगी।

बांग्लादेश। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बांग्लादेश दौरे का आज दूसरा व अंतिम दिन है। उन्‍‍‍‍‍‍‍होंने सतखीरा में सदियों पुराने एक जशोरेश्वरी काली मंदिर में पूजा-अर्चना कर अपने दिन की शुरूआत की।

यशोरेश्वरी काली मंदिर में PM मोदी :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सतखीरा में जशोरेश्वरी काली मंदिर पहुंचे, यहां उन्‍होंने मां काली को मुकुट पहनाया, उनके चरणों में साड़ी भेंट की। इसके बाद मंत्रोच्चार के साथ पूजा-अर्चना शुरू की। मंदिर में पूजा के बाद PM मोदी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, ''आज मुझे मां काली के चरणों में आने का सौभाग्य मिला है। जब मैं 2015 में बांग्लादेश आया था तो मुझे मां ढाकेश्वरी के चरणों में शीश झुकाने का अवसर मिला था। मानव जाति आज कोरोना के कारण अनेक संकटों से गुजर रही है, मां से प्रार्थना है कि पूरी मानव जाति को इस कोरोना के संकट से जल्द मुक्ति दिलाएं।''

आज मुझे 51 शक्तिपीठों में से एक मां काली के चरणों में आने का सौभाग्य मिला। मेरी कोशिश रहती है कि, मौका मिले तो इन 51 शक्तिपीठों में कभी न कभी जाकर अपना माथा टेकूं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

PM मोदी ने कम्युनिटी हॉल बनवाने का किया ऐलान

इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कम्युनिटी हॉल बनवाने का ऐलान करते हुए कहा- मैंने सुना है कि जब यहां मां काली की पूजा का मेला लगता है तो बहुत बड़ी तादाद में भक्त सीमा के उस पार से और यहां से भी आते हैं। यहां पर एक कम्युनिटी हॉल की आवश्यकता है। भारत यहां पर इस निर्माण कार्य को करेगी, मैं बांग्लादेश सरकार का आभार मानता हूं कि, उन्होंने इस काम के लिए हमारे साथ शुभकामनाएं प्रकट की हैं। ये बहुउद्देशीय हॉल हो ताकि जब काली पूजा के लिए लोग आएं तो उनके भी उपयोग में आए और सामाजिक, धार्मिक, शै​क्षणिक अवसर पर यहां के लोगों के काम आए और आपदा के समय खासकर चक्रवात के समय ये कम्युनिटी हॉल सबके लिए शेल्टर का स्थान बन जाए।

51 शक्तिपीठ में से एक सुगंधा शक्तिपीठ :

बता दें कि, कहा जात है बांग्लादेश के सतखीरा में स्थित मशहूर जशोरेश्वरी काली मंदिर 51 शक्तिपीठ में से एक सुगंधा शक्तिपीठ है। यहां देवी सती की हथेलियां गिरी थी। इसके बाद एक ब्राह्मण ने यहां मंदिर का निर्माण कराया था, ये मंदिर करीब 400 साल पुराना बताया जाता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co