रूस: पुतिन ने वैक्सीन को सुरक्षित और प्रभावी बताया, भारत में होगा उत्पादन

रूस द्वारा दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन लांच करने के बाद से ही यह विवादों में गिर गई थी। वहीं, अब राष्ट्रपति पुतिन ने इस वैक्सीन को पूर्ण रूप से सुरक्षित और प्रभावी बताया है।
रूस: पुतिन ने वैक्सीन को सुरक्षित और प्रभावी बताया, भारत में होगा उत्पादन
Russian President Putin says vaccine safe and effectiveKavita Singh Rathore -RE

रूस। कोरोना का बढ़ते प्रकोप के बीच पूरी दुनिया भर के देश कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने की रेस में दौड़ लगा रहे हैं। जबकि, हाल ही में इस रेस में रूस ने सबसे पहले जीत हासिल कर दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन तैयार कर ली है। इस बारे में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने स्वयं जानकारी दी थी। परंतु इस खबर के सामने आते ही यह विवादों में गिर गई थी। वहीं, अब राष्ट्रपति पुतिन ने इस वैक्सीन को पूर्ण रूप से सुरक्षित और प्रभावी बताया है।

राष्ट्रपति पुतिन ने की वैक्सीन की तारीफ :

दरअसल, रूस द्वारा हाल ही में 'स्पूतनिक वी' (Sputnik V) नाम की कोरोना वैक्सीन का निर्माण कर इसे लांच कर दिया है। परंतु विवादों के चलते इस पर सवाल उठने लगे थे। लेकिन राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अब इन सभी सवालों के जवाब में 'स्पूतनिक वी' वैक्सीन की तारीफ करते हुए इसे पूर्ण रूप से सुरक्षित और प्रभावी बताया है। साथ ही उन्होंने बताया है कि, बीते 2 महीने के दौरान इस वैक्सीन का ट्रायल कुछ दर्जन लोगों पर किया गया। इसके बाद इसे अब अप्रूवल मिल गया है।

एक इंटरव्यू के दौरान पुतिन ने बताया :

राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इस वैक्सीन को मजोरी मिलने को लेकर बताया कि, रूस द्वारा दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन तैयार करने के बाद इसे अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार पूरे नियमों का सख्ती से पालन करते हुए ही मंजूरी दी गई है। राष्ट्रपति पुतिन द्वारा इस वैक्सीन की तारीफ तब की गई है जब दुनियाभर के कई विशेषज्ञ फास्ट ट्रैक अप्रूवल को लेकर सवाल उठा रहे है। इसका कारण यह है कि, कि रूस द्वार इस वैक्सीन के कोई नतीजे अब तक साबित नहीं किए गए हैं। इन हालातों के बाबजूद पुतिन ने एक टीवी को दिए इंटरव्यू में कहा,

''हमारे विशेषज्ञों ने साफ किया है कि, यह वैक्सीन स्थायी इम्यूनिटी पैदा करता है और पूर्ण रूप से सुरक्षित है।''

व्लादिमीर पुतिन, रूस के राष्ट्रपति

भारत में जल्द हो सकता है उत्पादन :

पुतिन ने आगे अपनी एक बेटी को इस वैक्सीन की डोज देने वाली बात भी चैनल पर बताते हुए कहा कि, उनकी बेटी को यह वैक्सीन देने के बाद उनकी बॉडी में एंटीबॉडी डेवलप हुआ और वह काफी अच्छा महसूस कर रही है। वहीं, भारत के लिए ख़ुशी की खबर यह है कि, इस वैक्सीन का उत्पादन जल्द ही भारत में भी हो सकता है। क्योंकि, इस बारे में रूस और भारत दोनों देशो के बीच बातचीत चल रही है। खबरों की मानें तो, रूस द्वारा भारत की वैक्सीन उत्पादन की क्षमता को मद्देनजर रखते हुए रूस भारत के साथ साझेदारी करने पर विचार कर रहा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co