जापान हमलों के बाद ट्रेनों मे सुरक्षा कैमरे लगाना अनिवार्य
जापान हमलों के बाद ट्रेनों मे सुरक्षा कैमरे लगाना अनिवार्यSocial Media

जापान हमलों के बाद ट्रेनों मे सुरक्षा कैमरे लगाना अनिवार्य

जापान सरकार ने ट्रेन में हुए हमले पर चिंता व्यक्त कि और देश के सभी रेल्वे ऑपरेटरों से नए बनाए जाने वाले रेल्वे कोच में सुरक्षा के मद्देनजर कैमरे लगाने पर विचार कर रही है।

टोक्यो। जापान सरकार ने ट्रेन में हुए हमले पर चिंता व्यक्त की और देश के सभी रेल्वे ऑपरेटरों से नए बनाए जाने वाले रेल्वे कोच में सुरक्षा के मद्देनजर कैमरे लगाने पर विचार कर रही है। परिवहन मंत्रालय के अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी ने कहा कि राजधानी टोक्यो में अक्टूबर में ट्रेन के अंदर यात्री पर चाकू से हमले की घटना के बाद सरकार ने देश भर के रेल्वे ऑपरेटरों से नए बनाए जा रहे ट्रेनों में सुरक्षा के मद्देनजर कैमरे लगाए जाने अनिवार्य किए हैं। भूमि, बुनियादी ढांचा, परिवहन और पर्यटन मंत्रालय द्वारा आपदा निवारण उपायों पर सुझाए गए एक संशोधन पर पेश अध्यादेश का अध्ययन किया जाएगा। इसमें ऑपरेटरों को आग से सुरक्षा के उपाय अपनाने की बात तो कही गई है, लेकिन अभी तक कैमरों को इसमें गैर-जरूरी समझा गया है।

मंत्रालय ने जापान रेल्वे समूह सहित प्रमुख रेल्वे ऑपरेटरों के साथ सुरक्षा उपायों पर विचारों का आदान-प्रदान करने के बाद निर्णय लिया है। गौरतलब है कि 31 अक्टूबर की घटना के संबंध में रेल्वे ऑपरेटर केइयो कॉर्पोरेशन ने कहा है कि ट्रेन के अंदर कई अलग-अलग जगहों से यात्रियों द्वारा आपातकालीन बटन दबाए जाने के बाद कर्मचारियों को इसके बारे में पता चला। क्योंकि ट्रेन में कैमरे नहीं लगे हुए थे इसलिए कर्मचारियों को यह भी नहीं पता चल पा रहा था कि आखिर हो क्या रहा है। इसके अलावा, एक इमरजेंसी स्टॉप के बाद ट्रेन को जहां खड़ा होना था, उससे कुछ पीछे जाकर यह रूकी, कुछ दरवाजें भी बंद रहे। स्थिति ऐसी हो गई कि लोगों को ट्रेन की खिड़कियों से कूंदकर प्लेटफॉर्म पर उतरना पड़ा।

अधिकारियों ने कहा कि परिवहन मंत्रालय और रेल्वे ऑपरेटर इस बात का भी अध्ययन कर रहे हैं कि किसी आपात स्थिति में आपातकालीन बटन और लीवर का इस्तेमाल कैसे करना है।उल्लेखनीय है कि 31 अक्टूबर को टोक्यो के ट्रेन पर हुए हमले में एक 70 साल के बुजुर्ग के सीने में छुरा घोंपकर कथित तौर पर हमला किया गया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। इसमें अन्य 16 लोगों को भी मामूली चोटें आई थीं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co