Ukraine ने Iran से की Russia को हथियार आपूर्ति रोकने की मांग
Ukraine ने Iran से की Russia को हथियार आपूर्ति रोकने की मांगSocial Media

Ukraine ने Iran से की Russia को हथियार आपूर्ति रोकने की मांग

Ukraine के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने अपने ईरानी समकक्ष होसैन अमीरबदोल्लाहियन से रूस को हथियारों की आपूर्ति रोकने का अनुरोध किया है।

कीव। Ukraine के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने अपने ईरानी समकक्ष होसैन अमीरबदोल्लाहियन से रूस को हथियारों की आपूर्ति रोकने का अनुरोध किया है। बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार यूक्रेन और उसके सहयोगी पश्चिमी देशों ने ईरान पर रूस को कथित तौर पर ‘कामिकेज़’ ड्रोन उपलब्ध कराने का आरोप लगाया है, जिसका इस्तेमाल रूसी सेना ने यूक्रेन के बुनियादी ढांचे को तहस नहस करने में किया। ईरान ने हालांकि आरोप का खंडन करते हुये यह सफाई दी कि उसने रूस को ड्रोन समेत कोई हथियार नहीं भेजा है।

कुलेबा ने शुक्रवार देर रात एक ट्वीट में कहा, “ आज मुझे ईरानी विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियन का फोन आया था। मैंने ईरान से यूक्रेनी नागरिकों को मारने और महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे को नष्ट करने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले हथियारों की आपूर्ति तुरंत रोकने की मांग की।” रूस ने हाल के हफ्तों में यूक्रेन पर मिसाइल और ड्रोन हमले एक बार फिर तेज कर दिये है। ताजा हमलों से यूक्रेन के ऊर्जा बुनियादी ढांचे बुरी तरह प्रभावित हुए है और कीव समेत देश के अन्य शहरों और कस्बों को अभूतपूर्व बिजली कटौती का सामना करना पड रहा है। यूक्रेन का आरोप है कि रूस ने हमलों में ईरान में निर्मित ड्रोन का इस्तेमाल किया है, जो अपने लक्ष्य पर सटीक निशाना साध कर विस्फोट करने में सक्षम हैं। ईरान की न्यूज एजेंसी आईआरएनए ने बताया कि श्री अमीरबदोल्लाहियन ने रूस को यूक्रेन में इस्तेमाल के लिए ड्रोन मुहैया कराने के आरोपों को खारिज किया है। ईरानी विदेश मंत्री ने कहा, “अतीत में हमने रूस से हथियार लिए हैं और उसे हथियार भी दिए हैं, लेकिन यूक्रेन युद्ध के दौरान हथियारों का आदान प्रदान नहीं हुआ।” यूक्रेन ने शुक्रवार को कहा कि उसके सुरक्षा बलों ने सितंबर के मध्य से 300 से अधिक रूसी ड्रोन को मार गिराया है, जिनकी पहचान ईरान में निर्मित ड्रोन ‘शहीद-136’ माॅडल के तौर पर की गयी है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co