Raj Express
www.rajexpress.co
Donald Trump Addresses Nation
Donald Trump Addresses Nation|Social Media
दुनिया

ट्रम्प ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए ईरान को हड़काया, मची हलचल

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प ने राष्ट्र के नाम अपने आश्‍चर्यजनक संबोधन में ईरान के खिलाफ ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस, रूस और चीन से साथ देने को कहा, इसके अलावा ईरान पर प्रतिबंध लागू रहेंगे की बात कही।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। ईरान और अमेरिका के बीच चल रही गहमागहमी के बीच दुनिया में तनाव बढ़ रहा है। ईरान द्वारा किए गए मिसाइल हमले के कुछ घंटे बाद ही बुधवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प ने राष्ट्र को संबोधित (Donald Trump Addresses Nation) किया। इस दौरान ट्रम्प ने अपने संबोधन में आश्‍चर्यजनक बात कही है।

क्‍या बोले राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प?

राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प ने संबोधन में कहा कि, ''अब समय आ गया है कि ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस, रूस और चीन को सच्चाई को समझना चाहिए। इसके अलावा उन्‍होंने यह भी कहा कि, ईरान के साथ वर्ष 2013 में की गई मूर्खतापूर्ण परमाणु डील को खत्म करना चाहिए।''

ईरान के खिलाफ इन पांच देशों 'ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस, रूस और चीन' से साथ देने की बात भी कही है और यह अपील भी की है कि, अब हम सबको मिलकर ईरान के साथ एक नई डील करनी चाहिए, ताकि दुनिया को सुरक्षित और पीसफुल बनाया जा सके।
अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प

ईरान का व्यवहार अब बर्दाश्त नहीं :

ईरान को हड़काते हुए डॉनल्ड ट्रम्प का यह कहना भी है कि, दुनिया के देशों ने मिडिल ईस्ट समेत अन्य क्षेत्रों में ईरान द्वारा किए गए 'विनाशकारी व्यवहार' को काफी लंबे समय से बर्दाश्त किया जा रहा है, लेकिन अब वो दिन बीत चुके हैं।

इतना ही नहीं इस बीच ट्रंप ने ईरान पर नए आर्थिक प्रतिबंध लगाने की भी बात कही है, उनका कहना है कि, जब तक ईरान अपने व्यवहार में बदलाव नहीं करता है, तब तक उसके ऊपर प्रतिबंध लागू रहेंगे।

साथ ही ईरान पर आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप भी लगाया और कहा कि, ईरान आतंकवाद का प्रायोजक है। उसके परमाणु हथियार हासिल करने से दुनिया को खतरा पैदा हो जाएगा, जो हम कभी नहीं होने देंगे।

कासिम सुलेमानी का किया जिक्र :

अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस दौरान ईरान के ताक़तवर माने जाने वाले सैन्य कमांडर जनरल क़ासिम सुलेमानी का जिक्र करते यह बात कही कि, हमने पिछले हफ्ते ही दुनिया के सबसे बड़े आतंकी कासिम सुलेमानी को मार गिराया है, क्‍योंकि वह अमेरिकियों के लिए खतरा बन गया था। उसे बहुत पहले ही मार देना था, लेकिन अब सुलेमानी को मार कर हमने आतंकवाद को एक सख्त संदेश दिया है। अगर आप अपने जीवन को महत्व देते हैं तो आप हमारे लोगों के जीवन को खतरे में नहीं डालेंगे।

80 अमेरिकियों की मौत का दावा खारिज :

इसके अलावा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस दौरान ईरान द्वारा किए गए हमले में 80 अमेरिकियों की मौत के दावे को खारिज करते हुए कहा कि, इस हमले में किसी भी अमेरिकी सैनिक की मौत नहीं हुई है और न ही कोई बड़ा नुकसान हुआ है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।