US प्रेसिडेंशियल डिबेट में ट्रम्‍प-बाइडेन के बीच इन मुद्दों पर हुई तीखी बहस

अमेरिका प्रेसिडेंशियल डिबेट में ट्रम्‍प और बाइडेन के बीच कोरोना वायरस, कोरोना वैक्सीन, नॉर्थ कोरिया और जलवायु परिवर्तन को लेकर तीखी बहस हुई, जानें इस दौरान किसने क्या कहा...
US प्रेसिडेंशियल डिबेट में ट्रम्‍प-बाइडेन के बीच इन मुद्दों पर हुई तीखी बहस
US प्रेसिडेंशियल डिबेट में ट्रम्‍प-बाइडेन के बीच इन मुद्दों पर हुई तीखी बहसSocial Media

अमेरिका। कोरोना महामारी के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव 3 नवंबर को होने वाले हैं, इससे पहले मौजूदा राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्‍प (74) और उनके प्रतिद्वंद्वी जो बाइडन (77) के बीच शुक्रवार को प्रेसिडेंशियल डिबेट महामुकाबला हुआ।

प्रेसिडेंशियल डिबेट में ट्रम्‍प और बाइडन की जोरदार बहस :

प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान दोनों में जोरदार बहस हुई। जो बाइडन ने पूछा- कोरोना महामारी से आगे कैसे मुक़ाबला करेंगे। इस पर जवाब देते हुए ट्रम्‍प ने कहा, "देश में कोरोना वायरस के मामलों के उछाल आना अब ख़त्म हो गया है। बाकी जगहों पर भी यह जल्द ही चला जाएगा, कुछ ही हफ़्तों में इसकी वैक्सीन भी हमारे पास होगी, हमारी सेना इसे लोगों तक पहुंचाएगी।"

हमारे पास कोरोना वायरस का एक टीका (Coronavirus vaccine) आने वाला है, मैं अस्पताल में था और यह मेरे पास था।

डॉनल्ड ट्रम्‍प

ट्रम्‍प के पास कोविड-19 से लड़ने का कोई प्लान नहीं :

जबकि वहीं दूसरी ओर जो बाइडेन का ये कहना है कि, डॉनल्ड ट्रम्‍प के पास कोविड-19 से लड़ने का कोई प्लान नहीं है। कोविड-19 से हुई मौतों के लिए जिम्मेदार शख्स को राष्ट्रपति नहीं बने रहना चाहिए। वह यह सुनिश्चित करेंगे कि हर कोई मास्क पहने और रैपिड टेस्टिंग की जाए।

ट्रम्‍प ने चीन, रूस और भारत पर साधा निशाना :

वैसे तो हर बार भारत की तारीफ करते हुए नजर आए, लेकिन प्रेसिडेंशियल डिबेट में अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्‍प ने चीन, रूस के साथ-साथ भारत का जिक्र करते हुए निशाना साधा और कहा- जलवायु परिवर्तन से लड़ाई में भारत, रूस और चीन का रिकॉर्ड ख़राब रहा है। हमने कई नियम बनाए हैं, साफ़ हवा की बात मैं बाइडन से कहीं अधिक जानता हूं। अमरीका में कार्बन उत्सर्जन सबसे कम है। भारत, चीन और रूस को देखिए, उन्होंने हवा ज़्यादा ख़राब की है, वो इसकी लड़ाई में रिकॉर्ड ख़राब कर रहे हैं।

नॉर्थ कोरिया के साथ युद्ध पर भी हुई बहस :

प्रेसिडेंशियल डिबेट में डॉनल्ड ट्रम्‍प और जो बाइडेन के बीच नॉर्थ कोरिया को लेकर भी तीखी बहस देखने को मिली, जानें किसने क्‍या कहा-

हम नॉर्थ कोरिया के साथ युद्ध जैसी स्थिति में नहीं हैं, हमारा उनके साथ अच्‍छा संबंध है।

डॉनल्ड ट्रम्‍प

ट्रम्‍प के बयान पर बाइडेन का पलटवार :

हिटलर के यूरोप पर हमला करने से पहले भी हमारा उसके साथ अच्‍छा संबंध था।

जो बाइडेन

गौरतलब है कि, इससे पहले वाली डिबेट डॉनल्ड ट्रंप के कोरोना पॉजिटिव होने के कारण रद्द हो गई थी और अब अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव से पहले आखिरी डिबेट नैशविल में हुई, इस दौरान डॉनल्ड ट्रम्‍प और जो बाइडेन के बीच यह बहस 90 मिनट चली और बहस को सुनने आए लोगों ने नियमों का कड़ाई से पालन किया, मंच पर दोनों नेता जब पहुंचे तो बाइडेन के मुंह पर मास्क था और ट्रम्‍प ने मास्क नहीं लगाया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co