कोरोना महामारी वर्ष 2022 में समाप्‍त हो सकती है: WHO प्रमुख
कोरोना महामारी वर्ष 2022 में समाप्‍त हो सकती है: WHO प्रमुखSyed Dabeer Hussain - RE

कोरोना महामारी वर्ष 2022 में समाप्‍त हो सकती है: WHO प्रमुख

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस एडनॉम घेबियस ने कहा- कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी 2022 में खत्म हो सकती है, लेकिन इसके लिए सबसे पहले असमानता को समाप्त करना होगा।

नई दिल्‍ली। महामारी कोरोना वायरस की तीसरी लहर के खतरे एवं ओमिक्रॉन वेरिएंट के खतरे के बीच सभी जगहों पर एक बा‍र फिर सर्तकता बरती जा रही है। इस बीच वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन यानी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस एडनॉम घेबियस का महामारी कोरोना के समाप्‍त हुए जाने को लेकर बड़ा बयान सामने आया है, जिसमें उन्‍होंने इसी साल में महामारी के खत्‍म होने की बात कही है।

2022 में खत्म हो सकती है महामारी :

दरअसल, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस एडनॉम घेबियस ने अपने नए साल के संबोधन के दौरान यह बयान दिया है कि, ''कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी वर्ष 2022 में खत्म हो सकती है, लेकिन इसके लिए सबसे पहले असमानता को समाप्त करना होगा। कोई भी देश महामारी से बाहर नहीं है, हमारे पास कोविड-19 को रोकने और उसका इलाज करने के लिए कई नए उपकरण हैं। जितनी लंबी असमानता जारी रहेगी, इस वायरस के जोखिम उतने ही अधिक होंगे। हम इसे रोक या भविष्यवाणी नहीं कर सकते। यदि हम असमानता को समाप्त करते हैं, हम महामारी को समाप्त करते हैं।"

कोविड-19 एकमात्र स्वास्थ्य खतरा नहीं :

इतना ही नहीं बल्कि WHO के प्रमुख टेड्रोस एडनॉम घेबियस ने आगे इस बात पर भी प्रकाश डालते हुए कहा कि, ''कोविड-19 एकमात्र स्वास्थ्य खतरा नहीं है, जिसका दुनिया के लोग अगले साल सामना करेंगे, लाखों लोग नियमित टीकाकरण, परिवार नियोजन के लिए सेवाएं, संचारी और गैर-संचारी रोगों के उपचार से चूक गए हैं।''

भविष्य की महामारियों के लिए दुनिया को तैयार करने में मदद करने के लिए हमने देशों के लिए जैविक सामग्री साझा करने के लिए नई डब्ल्यूएचओ बायोहब प्रणाली की स्थापना की।

WHO के प्रमुख टेड्रोस एडनॉम घेबियस

सभी देशों को टीकाकरण पर ध्यान देना चाहिए :

WHO के प्रमुख टेड्रोस एडनॉम घेबियस ने कहा- सभी देशों को अपनी अधिक से अधिक आबादी को टीकाकरण पर ध्यान देना चाहिए। हमें 2022 के मध्य तक सभी देशों में 70 प्रतिशत लोगों को टीकाकरण के वैश्विक लक्ष्य तक पहुंचने के लिए सभी देशों को मिलकर काम करने की आवश्यकता है। ओमिक्रॉन नाम का कोरोना वायरस का एक नया वेरिएंट हाल ही में दक्षिण अफ्रीका में उभरा और दुनिया भर में कोविड-19 संक्रमण में वृद्धि कर रहा है। WHO द्वारा इसे पहले ही 'चिंता के प्रकार' के रूप में वर्गीकृत किया जा चुका है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co