कन्या प्रथम पूज्य: कमलनाथ ने सीएम के फैसले का किया स्वागत, लेकिन कही ये बात
कमलनाथ ने सीएम के फैसले का किया स्वागतPriyanka Yadav-RE

कन्या प्रथम पूज्य: कमलनाथ ने सीएम के फैसले का किया स्वागत, लेकिन कही ये बात

भोपाल, मध्यप्रदेश : MP में किसी भी सरकारी कार्यक्रम के पहले बेटियों का पूजन होगा, शिवराज सरकार के इस फैसले का कमलनाथ ने स्वागत करते हुए कही ये बड़ी बात...

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नए साल से पहले फैसला लिया है कि मध्यप्रदेश में हर सरकारी कार्यक्रम की शुरुआत बेटियों की पूजा से होगी, इस संबंध में आदेश जारी कर दिया गया। बता दें कि इसकी घोषणा सीएम शिवराज सिंह चौहान ने 15 अगस्त को की थी। सीएम ने महिला और बेटी के सम्मान का संकल्प लेते हुए ऐलान किया था कि मप्र में बेटियों की पूजा से ही सभी सरकारी आयोजन प्रारंभ होंगे, अब शासन ने आदेश जारी किया है।

कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा- शिवराज सरकार के सरकारी कार्यक्रम के पहले बेटियों का पूजन के फैसले पर स्वागत करता है, कमलनाथ ने कहा- शिवराज आप मध्यप्रदेश में हर कार्यक्रम के पूर्व कन्या पूजन का निर्णय लीजिये, क्योंकि हमारे समाज में बेटियों की सर्वत्र पूजा होती है, उनका सम्मान किया जाता है, यह हमारे सामाजिक संस्कार भी हैं।

नाथ ने ट्वीट के जरिए शिवराज सरकार पर साधा निशाना :

इस बीच ही शिवराज सरकार को घेरते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने निशाना साधा है, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कहा कि- क्या सिर्फ़ कन्या पूजन करना ही काफ़ी है, क्या उन्हें सुरक्षा देने का दायित्व सरकार का नहीं है? आपकी पूर्व की सरकार की बात कंरे या वर्तमान सरकार की, आपकी सरकार में बहन-बेटियाँ ही सबसे ज़्यादा असुरक्षित रही हैं। प्रदेश में प्रतिदिन मासूम बच्चियाँ दरिंदगी का शिकार हो रही हैं, उन्हें आज सुरक्षा की सबसे ज़्यादा आवश्यकता है।

एक तरफ़ आपकी सरकार यह आदेश निकाल रही है, वहीं दूसरी तरफ़ शहडोल में एक माह में 30 मासूम बच्चे मौत की आग़ोश में समा चुके हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कहा-

इस संबंध में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए शिवराज सरकार को घेरते हुए कहा कि, आपकी सरकार इस दिशा में गंभीर लापरवाह बनी हुई है, ऐसा लग रहा है कि स्थिति सरकार के नियंत्रण से बाहर हो चुकी है, मौत का आँकड़ा निरंतर बढ़ता जा रहा है। एक समीक्षा बैठक के बाद आप भी ग़ायब है, ज़रा उन मासूमों को सुरक्षा व समुचित इलाज देने का अपना दायित्व भी निभाइये।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co