MP: कम बारिश ने बढ़ाई किसानों की चिंता, रोज छा रहे बादल, लेकिन बरस नहीं रहे
एमपी मौसम के हाल
Syed Dabeer Hussain - RE

MP: कम बारिश ने बढ़ाई किसानों की चिंता, रोज छा रहे बादल, लेकिन बरस नहीं रहे

MP मौसम के हाल: प्रदेश में मानसून (Monsoon 2021) सुस्त होने से गर्मी और उमस बढ़ गई है, कई जिलों रोजाना उम्मीदों के बादल छा रहे हैं लेकिन बरसने के बजाय उमस बढ़ाकर चले जाते हैं।

मध्यप्रदेश। प्रदेश मौसम (Madhya Pradesh weather) का मिजाज बदल रहा है, कभी आसमान में बादल छा रहे तो कभी तल्ख धूप खिल रही है। बता दें कि मानसून आने के बाद मध्यप्रदेश के कई जिलों में बारिश पर ब्रेक लग गया है, बादलों के बीच तल्ख धूप खिली है, कई दिनों से मानसून (Monsoon 2021) सुस्त होने से गर्मी और उमस बढ़ गई है, जिसकी वजह से लोग परेशान रहे हैं।

MP मौसम के हाल:- रोजाना उम्मीदों के बादल छा रहे हैं लेकिन बरस नहीं रहे

बता दें कि पिछले चार-पांच दिनों से आसमान में छा रहे बादल या तो बरस नहीं रहे या फिर हल्की-फुल्की बूंदाबांदी कर कई जिलों से विदा हो रहे हैं, इस बूंदाबांदी से बढ़ रही उमस ने लोगों को परेशान कर रखा है। बारिश के इंतजार में बैठे जिले के कई लोग हर बार भविष्यवाणी के अनुरूप रोज आसमान की ओर देख रहे हैं, आसमान में रोज छा रहे बादलों के कारण प्रतिदिन आशा भी बंध रही है कि शायद आज बारिश होगी, रोजाना उम्मीदों के बादल छा रहे हैं लेकिन बरसने के बजाय उमस बढ़ाकर चले जाते हैं।

कमजोर हो रहे मानसून ने बढ़ाई किसानों की चिंता :

MP में मानसून की गतिविधियों में कमी दर्ज हो रही है, ऐसे में कमजोर हो रहे मानसून ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है, बता दें फसल की खेती में लगे किसानों के लिए भरपूर मानसूनी बारिश की जरूरत होती है, लेकिन 27-29 जून के बाद प्रदेश के ज्यादातर हिस्से में मानसून के कमजोर पड़ने से बारिश की गतिविधियां कम रही है।

किसानों का कहना-

वहीं, मध्यप्रदेश के मालवा-निमाड़ में रोजाना बादल आकर गुजर रहे हैं, लेकिन बादलों की बेरुखी साफ दिखाई दे रही है। इसका असर बोई गई फसल पर पड़ रहा है, किसानों का कहना है कि जुलाई महीने की शुरुआत हो गई है, लेकिन बारिश के कोई आसार नहीं दिखाई दे रहे हैं। बारिश नहीं होने से जमीन की नमी लगातार खत्म हो रही है। यदि 1-2 दिन और पानी नहीं गिरता तो फसलें खत्म हो जाएंगी।

बारिश नहीं होने से फसलों में लगने लगे कीड़े

बोवनी के बाद बारिश नहीं होने तथा तेज धूप तपने से अब फसल में कीड़े लगने लगे हैं, जिससे किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें गहराने लगी हैं। वर्तमान में आसमान पर बादल तो हैं लेकिन बारिश नहीं हो रही है जिससे अंकुरित फसल में कीड़े लग रहे हैं ऐसी स्थिति में किसान बारिश की कामना कर रहा है लेकिन बारिश नहीं हो रही है। ये भी पढ़ें- जुलाई में 8 तारीख के आसपास मानसून सक्रिय होगा

आज का मौसम अपडेट

मौसम विभाग के मुताबिक पिछले 24 घंटो के दौरान मध्यप्रदेश के रीवा, शहडोल, जलबपुर संभागों के जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश दर्ज की गई है तथा शेष संभागों के जिलो का मौसम मुख्यतः शुष्क रहा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co