कोरोनावायरस! लॉकडाउन
कोरोनावायरस! लॉकडाउन|Social Media
भारत

COVID-19 देश में लॉकडाउन के दूसरे दिन की स्थिति

कोरोना वायरस के बचाव के लिए पीएम मोदी द्वारा 21 दिन देश में सम्पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा का आज दूसरा दिन। जानें इस रिपोर्ट में लॉकडाउन की स्थिति...

Aditya Shrivastava

राज एक्सप्रेस। देशभर में कोरोना वायरस का आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है। देश मे कोरोना संक्रमित मरीज 674 की पुष्टि हुई है, जबकि 17 लोगों की मौत हो चुकी है। साथ ही 45 लोग ठीक हो चुके हैं। कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पीएम मोदी द्वारा सम्पूर्ण देश में 21 दिन लॉकडाउन की घोषणा की गई है। जिसका आज दूसरा दिन है। 5 राज्यों में कर्फ्यू लगाया गया है। देशभर में लॉकडाउन और कर्फ्यू लागू करवाने के लिए पुलिस सड़कों पर है। पुलिस बैरिकेडिंग कर सिर्फ जरूरी कामों के लिए लोगों को आने-जाने की इजाजत दे रही है।

कोरोना से बचाव के लिए पीएम मोदी द्वारा 21 दिन लॉकडाउन का आज दूसरा दिन है। लॉकडाउन के दूसरे दिन पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोलकाता के एक बाजार में खुद पहुंचीं और सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर अधिकारियों को निर्देश देती नजर आईं।

वहीं, एनडीआरएफ के डीजी एसएन प्रधान ने कहा कि देश में 12 बटालियनें और 50 सब यूनिट को तैयार रखा गया है। हर बटालियन में 400 कर्मियों को पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (पीपीई) दिए गए हैं। राज्यों को जब भी जरूरत होगी हम सक्रिय हो जाएंगे।

कोरोना से गुरुवार यानि आज मध्यप्रदेश के इंदौर में 35 वर्षीय युवक की मौत हो गई। जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में 65 वर्षीय मरीज ने दम तोड़ दिया। वहीं, महाराष्ट्र के मुंबई में 65 साल की महिला की मौत हुई। गुजरात के भावनगर में भी 70 साल के बुजुर्ग ने जान गंवाई। इससे पहले कोरोना संक्रमण से दिल्ली, मुंबई, कर्नाटक, पंजाब, पटना, हिमाचल प्रदेश, मध्यप्रदेश, प.बंगाल और सूरत में मौत हो चुकी हैं।

DMRC के मुताबिक दिल्ली मेट्रो भी 14 अप्रैल तक बंद रहेगी। देश में 21 दिनों के लॉकडाउन के कारण ये फैसला लिया गया है। छत्तीसगढ़ सरकार ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए अहम कदम उठाया है। छत्तीसगढ़ सरकार ने सभी निजी अस्पतालों को कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए टेक ओवर करने का फैसला किया है।

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि कोरोना वायरस की महामारी के चलते प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत हर परिवार को 5 किलो चावल या गेहूं और एक किलो दाल मुफ्त दी जाएगी। इसके अतिरिक्त हर परिवार को एक किलो मुफ्त दाल मिलेगी। हमारा यह कदम गरीबों के कल्याण के प्रति हमारी सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co