Raj Express
www.rajexpress.co
Indraprastha Park Gang Rape
Indraprastha Park Gang Rape|Syed Dabeer Hussain - RE
भारत

दिल्‍ली: दरिंदगी के कारण देश की राजधानी एक बार फिर हुई शर्मसार

देश की राजधानी दिल्‍ली के सराय काले खां बस अड्डे के पास स्थित इंद्रप्रस्थ पार्क में घूमने आई करीब 22-23 साल की युवती के साथ दरिंदो ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया, युवती की हालत बेहद नाजुक है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

हाइलाइट्स :

  • दिल्ली के इंद्रप्रस्थ पार्क घूमने आई लड़की गैंगरेप की शिकार

  • पीड़ित युवती के शरीर पर चोट के निशान, हालत बेहद नाजुक

  • दरिंदों को पकड़ने के लिए 7 टीमें गठित

  • सार्वजनिक जगहों पर CCTV कैमरे तक नहीं

राज एक्‍सप्रेस। देश की राजधानी दिल्ली एक बार फिर दरिंदगी के कारण शर्मसार हो गई है, यहां वर्ष 2012 में हुए निर्भया रेप केस के बाद भी खुलेआम घूम रहे दरिंदों को पुलिस व कानून का बिल्‍कुल डर नहीं है, यहां महिलाएं अभी भी सुरक्षित नहीं है, बीते दिनों दिल्‍ली के सराय काले खां बस अड्डे के पास स्थित सबसे मशहूर इंद्रप्रस्थ पार्क का एक शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है, यहां पार्क में घूमने आई युवती के साथ दरिंदो ने गैंगरेप (Indraprastha Park Gang Rape) की वारदात को अंजाम दिया।

कैसे हुई इतनी बड़ी वारदात :

दरअसल, इंद्रप्रस्थ पार्क में करीब 22-23 साल की युवती घूमने आई थी, तभी अकेली लड़की को देखकर 2-4 लोगों ने उसके साथ गैंगरेप किया, इससे लड़की बेहोश हो गई। संभवत: लड़की को मरा समझकर आरोपी वहां से भाग गए। इन दंरिदों ने युवती के सभी कपड़े भी फाड़ दिए, साथ ही युवती के शरीर पर जगह-जगह चोट के निशान पाये गए हैं। यह घटना रविवार को हुई और सोमवार सुबह जब कुछ लोग पार्क में सैर करने पहुंचे, तो उन्होंने झाड़ियों में पीड़िता को बिना कपड़ों के बेहोशी की हालात में देख यहां हड़कंप मच गया, इसके तुरंत बाद पुलिस को जानकारी दी, मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया।

युवती की हालत बेहद नाजुक :

फिलहाल पीड़ित युवती का अस्पताल में इलाज चल रहा है और उसकी हालत काफी नाजुक बताई जा रही है, युवती होश में आते ही तुरंत बेहोश हो जाती है। डॉक्टरों का कहना है कि, युवती काफी डरी हुई है, वह बहकी-बहकी बातें कर रही है। जैसे ही थोड़ी होश में आती हैं, बार-बार वह यहीं कह रही है कि, मुझे छोड़ दो भैया...मुझे छोड़ दो।

दरिंदों को पकड़ने के लिए 7 टीमें गठित :

स्‍थानीय पुलिस के अुनसार, यह मामला सनलाइट कॉलोनी इलाके का है, पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है, हालांकि पुलिस ने इन दरिंदों को पकड़ने के लिए 7 टीमें गठित की हैं, फिलहाल अभी ये दरिंदे पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं।

गैंगरेप पर सवाल :

इस गैंगरेप के मामले को 24 घंटे से ज्‍यादा हो चुके है, ‍फिर भी पुलिस इन दंरिदों को नहीं पकड़ पाई हैं, अब तो ‍दिल्‍ली की सबसे भीड़भाड़ वाली जगहों पर भी महिलाएं व युवतियां सुरक्षित नहीं हैं, महिला सुरक्षा के नाम पर पुलिस बार-बार फेल हो जाती हैं। निभर्या कांड जैसी वारदात होने के बाद भी यहां पर सार्वजनिक जगहों पर CCTV कैमरे तक नहीं लगे हैं और ना ही इन दरिंदों को पुलिस व कानून का कोई डर है। एक तरफ देशभर मे ‘बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ’ की बात होती है, लेकिन ऐसी शर्मसार घटना होने के मामले में जब राजधानी ही सुरक्षित नहीं है, तो छोटे गांव और कस्बे का क्या होगा? आखिर कब तक सहती रहेंगी महिलाएं?