Government Donated To Ayodhya Ram Mandir Trust
Government Donated To Ayodhya Ram Mandir Trust|Priyanka Sahu -RE
पॉलिटिक्स

राम मंदिर निर्माण की शुभ घड़ी-सरकार ने ट्रस्‍ट को दिया पहला दान

भव्‍य राम मंदिर निर्माण के लिए गठित ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ का ऐलान होने के बाद ट्रस्‍ट को दान राशि दिए जाने का सिलसिला शुरू हो गया, केंद्र सरकार द्वारा दी गई पहली राशि से पहलेे दान की शुरूआत

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। भारत की आस्था और अटूट श्रद्धा के प्रतीक भगवान श्री राम के अयोध्या में बनने वाले भव्‍य मंदिर निर्माण को लेकर लोगों उत्सुकता जागी हुई है और अब इसकी शुभ घड़ी आ गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राम मंदिर निर्माण के लिए गठित ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ का ऐलान किये जाने के बाद अब इस ट्रस्‍ट में दान राशि आने का सिलसिला शुरू हो गया है। साथ ही केंद्र सरकार की ओर से ट्रस्ट को पहला दान भी मिल गया है।

मोदी सरकार ने दिया पहला दान :

अयोध्या के भव्‍य राम मंदिर निर्माण के ट्रस्‍ट को पहला दान केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने दिया है, ताकि ट्रस्ट अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण की दिशा में काम शुरू कर सके।

कितना दिया दान :

भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा दिया गया दान में 1 रुपया नकद दिया गया है, सरकार की ओर से यह दान ट्रस्ट को गृह मंत्रालय में अवर सचिव डी. मुर्मू ने दिया।

साथ ही अधिकारी ने बताया कि, ट्रस्ट अचल संपत्ति सहित बिना किसी शर्त के किसी भी व्यक्ति से किसी भी रूप में दान, अनुदान, अंशदान, योगदान ले सकता है।

ट्रस्ट में होंगे कुल 15 ट्रस्टी :

‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ ट्रस्ट में कुल 15 सदस्य होंगे, जिसमें से 9 स्थायी और 6 नामित सदस्य होंगे। केंद्र ने ट्रस्ट में शामिल ट्रस्टियों के नामों की घोषणा भी की है, जिनमें वरिष्ठ अधिवक्ता के. परासरण, जगदगुरु शंकराचार्य, ज्योतिषपीठाधीश्वर स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती जी महाराज (इलाहाबाद), जगदगुरु माधवाचार्य स्वामी विश्व प्रसन्नतीर्थ जी महाराज (उडुपी के पेजावर मठ से), युगपुरुष परमानंद जी महाराज (हरिद्वार), स्वामी गोविंददेव गिरि जी महाराज (पुणे) और विमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र (अयोध्या) शामिल हैं।

बता दें कि, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार केंद्रीय कैबिनेट द्वारा 5 जनवरी को संसद में राम मंदिर ट्रस्ट के गठन का ऐलान किया गया था, यानी राम मंदिर ट्रस्ट बनाने को मंजूरी दे दी है। इस दौरान PM मोदी ने लोकसभा में अयोध्या में सरकार द्वारा कब्जाई गई 67 एकड़ गैर-विवादित जमीन भी ट्रस्ट को देने की बात कही है, इसके अलावा योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा सुन्नी वक्फ बोर्ड को अयोध्या के रौनाही में 5 एकड़ जमीन देने के प्रस्ताव पर भी मुहर लगाते हुए मस्जिद के लिए यह जमीन देने का ऐलान किया गया था।

संसद में भव्‍य राम मंदिर के लिए मोदी सरकार द्वारा दी गई स्‍पीच में क्‍या कहा यह जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co