राशिद खान ने काबू में रखा मैच को।
राशिद खान ने काबू में रखा मैच को।|- Social Media
खेल

हैदराबाद ने चखा जीत का स्वाद, कम लक्ष्य के बावजूद राशिद खान से हारी दिल्ली

दिल्ली कैपिटल्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 20 ओवरों में 162 रनों पर रोक तो दिया लेकिन टारगेट का पीछा करते समय दिल्ली इससे 15 रन पीछे रह गई।

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स –

  • DC ने चुनी गेंदबाजी

  • SRH ने रखा कमजोर लक्ष्य

  • धवन/पंत का बल्ला रहा खामोश

  • राशिद खान ने काबू में रखा मैच

राज एक्सप्रेस। अबू धाबी के शेख ज़ायद स्टेडियम में खेला गया चौथा मैच भी लो स्कोरिंग वाला रहा। यहां पहले हुए तीन मैचों में से एक मात्र मैच अपेक्षाकृत ज्यादा स्कोर वाला था। कम स्कोरिंग वाले मैच में हैदराबाद सनराइजर्स ने देलही कैपिटल्स को 15 रनों से हरा दिया।

अय्यर ने चुना क्षेत्ररक्षण -

टॉस जीतने के बाद दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने पहले गेंदबाजी का फैसला किया। दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals-DC) ने सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad-SRH) को 20 ओवरों में 162 रनों के साधारण योग पर रोक तो दिया लेकिन रनों का पीछा करते समय डीसी इस ट्रिपल डिजिट से 15 रन पीछे रह गई।

सनराइजर्स का कम टारगेट -

शेख जायद स्टेडियम के पिछले मैच में कोलकाता के खिलाफ महज 142 रनों का साधारण योग खड़ा करने वाली SRH; दिल्ली कैपिटल्स के सामने भी औसत टोटल ही बना पाई।

एसआरएच ने इस मैच में 4 विकेट के नुकसान पर मात्र 162 रनों की ही चुनौती डीसी के सामने रखी। हालांकि सनराइजर्स की पारी में कप्तान डेविड वॉर्नर, बेयरस्टो और न्यूजीलैंड के केन विलियमसन जैसे पश्चिमी सितारे जरूर चमके।

पहला विकेट –

एसआरएच के ओपनर्स ऑस्ट्रेलियन मूल के कप्तान डेविड वॉर्नर और इंग्लिश विकेटकीपर बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो ने एक समय अय्यर के क्षेत्ररक्षण के दावे को गलत साबित कर दिया था।

दोनों बल्लेबाजों ने परिस्थिति के हिसाब से तेज और धीमी गति से रन बनाए। 10 वें ओवर की तीसरी गेंद पर जब वॉर्नर का विकेट गिरा तब SRH का टोटल 77 रन था।

वॉर्नर ने 3 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 33 गेंदों पर 45 रन बनाए। कप्तान के आउट होने पर उतरे मनीष पांडे 5 गेंद पर मात्र 3 रन बनाकर अमित मिश्रा की गेंद पर आउट हो गए।उनका कैच रबाडा ने पकड़ा। पांडे के आउट होने पर टीम का स्कोर 11.2 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर 92 रन था।

बेयरस्टो-विलियमसन ने संभाला –

पांडे के सस्ते में जाने और न्यूजीलैंड के धाकड़ बल्लेबाज केन विलियमसन के आने के बाद एसआरएच की स्थिति में सुधार हुआ। बेयरस्टो और विलियमसन ने सूझबूझ से रन जोड़े।

तीसरा विकेट –

SRH का स्कोर जब 17.5 ओवरों में 144 था तब बेयरस्टो 48 गेंदों पर 53 रन बनाकर रबाडा की गेंद पर आउट हो गए। पारी में 1 छक्का और 2 चौके लगा चुके बेयरस्टो का कैच नोर्त्जे ने पकड़ा।

चौथा विकेट –

केन विलियमसन ने स्कोरिंग रेट 157.69 के साथ सबसे तेज गति से रन बनाए। उनकी प्रतिभा इस बात से ही झलकती है कि 26 गेंदों की अपनी पारी में उन्होंने 5 चौकों के सहारे 41 रन बनाए।

लय में नजर आ रहे विलियमसन को रबाडा ने अपना दूसरा शिकार बनाया। अक्षर पटेल ने उनका कैच पकड़ा। अब्दुल समद 1 चौके, 1 छक्के के सहारे 7 गेंदों पर 12 रन जबकि अभिषेक शर्मा 1 गेंद पर 1 रन बनाकर नाबाद रहे।

सनराइजर्स हैदराबाद ने अपनी 20 ओवरों की पारी में 4 विकेट के नुकसान पर मात्र 162 रनों का आसान लक्ष्य दिल्ली कैपिटल्स के सामने रखा।

काम नहीं आई कैपिटल्स की पूंजी –

दिल्ली कैपिटल्स के बल्लेबाजों की फेहरिस्त में दर्ज नामी बल्लेबाजों के आगे सनराइजर्स का स्कोर काफी कम माना जा रहा था। लेकिन SRH के गेंदबाजों ने अनुशासित गेंदबाजी कर सारे कयासों पर पानी फेर दिया। DC के बल्लेबाज कभी भी एसआरएच के गेंदबाजों की लय, लाइन और लैंथ को प्रभावित नहीं कर पाए।

पृथ्वी का फ्लॉप शो –

सनराइजर्स के मुकाबले दिल्ली के सलामी बल्लेबाज कमजोर साबित हुए। पृथ्वी शॉ का शो जहां फ्लॉप रहा वहीं शिखर धवन भी बल्लेबाजी का वो शिखर नहीं छू पाए जितनी उनको तवज्जो दी जाती है।

पहला विकेट –

भुवनेश्वर कुमार ने पारी और अपने स्पैल के पहले ओवर की पांचवी गेंद पर पृथ्वी शॉ को विकेट कीपर बेयरस्टो के हाथों लपकवाकर डीसी को पहला झटका दिया। टीम का स्कोर इस समय मात्र 2 रन था।

दूसरा विकेट –

कप्तान श्रेयस भी निष्प्रभावी रहे। 42 रनों के टीम के कुल स्कोर पर दूसरे विकेट के तौर पर आउट होने से पहले अय्यर ने 2 चौकों की मदद से 21 गेंदों पर 17 रनों की पारी खेली। राशिद खान की गेंद पर अय्यर का कैच अब्दुल समद ने पकड़ा।

धवन की औपचारिक पारी –

ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन 11.3 ओवरों तक मोर्चा जरूर संभाले रहे लेकिन उनके बल्ले में रनों की आग नहीं थी। टीम का कुल योग जब 62 रन था तब शिखर धवन को राशिद खान ने विकेट कीपर बेयरस्टो के हाथों झिलवा दिया।

धवन की पारी को औपचारिकता इसलिए कहा जा सकता है क्योंकि शिखर 31 गेंदों में मात्र 4 बाउंड्री लगाकर 34 रन ही बना सके।

भुवी का अगला शिकार –

सटीक गेंदबाजी कर रहे भुवनेश्वर ने खुलकर खेल रहे सिमरोन हेटमायर को मनीष पांडे के हाथ कैच कराकर दिल्ली कैपिटल्स को तगड़ा झटका दिया।

हेटमायर ने 2 छक्कों के सहारे 12 गेंदों पर 21 रनों की तेज तर्राट पारी खेली। हेटमायर चौथे विकेट के तौर पर 16वें ओवर की पहली गेंद पर टीम के कुल योग 104 रनों पर आउट हुए।

पंत की पारी का अंत –

ऋषभ पर जितना भरोसा कॉमेंटेटर जता रहे हैं उतना पंत प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं। धोनी का विकल्प बताकर थोपे जा रहे कथित विकेट कीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत 2 छक्कों और एक चौके के सहारे 27 गेंदों पर 28 रन बना पाए।

मतलब पंत ने अपनी पारी में कुल तीन गेंदों पर 16 रन बनाए जबकि बाकी बचे 12 रन बनाने उनको 24 गेंदों की जरूरत पड़ी।

छठवां विकेट –

दिल्ली कैपिटल्स का छठवां विकेट मार्कस स्टोइनिस के रूप में टीम के कुल योग 126 रनों पर गिरा। स्टोइनिस ने 9 गेंदों पर 11 रन बनाए। टीम के टोटल 138 पर अक्षर पटेल (6 गेंद 5 रन) को खलील अहमद ने बोल्ड कर दिया।

रबाडा ने जगाई उम्मीद –

दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी कैगिसो रबाडा ने 1 चौके और छक्के के सहारे उम्मीदें जगाईं लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। रबाडा 7 गेंदों पर 15 जबकि एनरिक नोर्त्जे 2 गेंदों पर 3 रन बनाकर नाबाद रहे। टीम के कोटे के 20 ओवरों की समाप्ति पर दिल्ली कैपिटल्स 7 विकेट के नुकसान पर 147 रन ही बना पाई और 15 रनों से मैच हार गई।

DC से रबाडा, SRH से राशिद -

दिल्ली कैपिटल्स के गेंदबाजों ने भी सधी गेंदबाजी की थी लेकिन हैदराबाद सनराइजर्स के बॉलर्स इस मामले में ज्यादा दुरुस्त साबित हुए। दिल्ली कैपिटल्स के रबाडा ने कोटे के 4 ओवरों में मात्र 21 रन देकर बेयरस्टो और विलियमसन जैसे महत्वपूर्ण विकेट झटके और टीम के लिए सबसे किफायती गेंदबाज साबित हुए।

दूसरे सफल गेंदबाज अमित मिश्रा रहे जिन्होंने वॉर्नर और पांडे का विकेट हासिल किया। मिश्रा ने 4 ओवरों में 35 रन दिये। नोर्त्जे ने 10 की औसत से 4 ओवरों में 40 रन खर्च किए उनको कोई विकेट नहीं मिला। अनुभवी गेंदबाज इशांत शर्मा ने कुल दो वाइड के साथ अपने 3 ओवरों में 26 रन दिए।

छाए रहे राशिद –

सनराइजर्स के अफगानी सितारे फिरकी गेंदबाज राशिद खान ने अपनी स्पिन पर दिल्ली कैपिटल्स के बल्लेबाजों को जमकर नचाया। मात्र 3.5 की औसत से 4 ओवरों में महज 14 रन देकर खान ने धवन, अय्यर और पंत जैसे तीन बल्लेबाजों का बल्ला खामोश कर दिया।

दूसरे सफल गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार रहे जिन्होंने 4 ओवर्स में 25 रनों पर 2 विकेट हासिल किए। टी. नटराजन ने भी प्रभावी गेंदबाजी की और 4 ओवरों में 25 रन देकर एक विकेट हासिल किया।

के. खलील अहमद ने 4 ओवरों में 1 विकेट जरूर लिया लेकिन 43 रन देने के कारण टीम के लिए महंगे साबित हुए। राशिद खान यदि किफायती गेंदबाजी न कर रहे होते तो खलील अहमद का रन लुटाना सनराइजर्स हैदराबाद का सूरज ऊगने के बजाए डूबने का कारण भी बन सकता था।

डिस्क्लेमर – आर्टिकल ऑनलाइन स्कोरकार्ड पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co