गड़बड़ाया खिलाड़ियों का रिटायरमेंट प्लान!
गड़बड़ाया खिलाड़ियों का रिटायरमेंट प्लान!|Syed Dabeer Hussain - RE
खेल

द अनटोल्ड स्टोरी : क्या धोनी समेत ये खिलाड़ी T20 वर्ल्डकप तक खेल पाएंगे?

"T20 क्रिकेट विश्वकप को एक साल का धक्का लगा है। इससे अपने चहेते क्रिकेटर्स को मैदान में खेलते देखने की चाह रखने वालों को शंका है कि क्या वे कई खिलाड़ियों को विश्व कार्यक्रम में देख भी पाएंगे या नहीं?"

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स –

  • covid19 से इस साल आयोजन खटाई में

  • ICC की अगले साल आयोजन की योजना

  • धोनी समेत कई का करियर लगा दांव पर

  • गड़बड़ाया खिलाड़ियों का रिटायरमेंट प्लान!

राज एक्सप्रेस। किसी को मौके की तलाश थी तो किसी का करियर ढलान पर है। ऊपर से ऐसे में कोविड उन्नीस ने इस साल के हाथ आए अवसर पर पानी फेर दिया। सवाल उठता है ये अनुभवी क्रिकेटर्स क्या अगले साल तक इंटरनेशनल करियर की गाड़ी खींच भी पाएंगे?

द अनटोल्ड स्टोरी –

जी हां सवाल जब एमएस धोनी पर उठे तो अटकलें लगाना असंभव है। इस साल 2020 में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) और T20 वर्ल्ड कप को मूल रूप से अप्रैल और अक्टूबर माह में आयोजित कराना प्रस्तावित था।

MSD - ऐसे में क्या आपको लगता है पूर्व कप्तान और विकेट कीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी के खुद के नजरिये से यह उनके क्रिकेट करियर समाप्ति की ठीक योजना हो सकती थी।

माही का कल - हालांकि तय विश्व कप कार्यक्रम को एक साल के लिए टाल दिया गया है। ऐसे में धोनी को तैयारी के लिए एक और साल का वक्त मिला है। हालांकि हमें याद रखना होगा कि धोनी ने पिछले साल जुलाई 2019 से भारत के लिए कोई क्रिकेट मैच नहीं खेला है।

एज फैक्टर - पूर्व कप्तान धोनी के लिए बढ़ती उम्र भी एक मसला है। अगले साल टूर्नामेंट के आयोजन तक वे 40 साल के हो जाएंगे। जिससे उनको क्रिकेट खेलने के जितने भी मौके मिलें उनमें सौ फीसद प्रदर्शन करना होगा।

कोविड19 के कारण फिलहाल ज्यादा क्रिकेट खेलने के मौके मिलना असंभव दिख रहे हैं। तो क्या कैप्टन कूल का करियर समाप्त माना जाए या फिर आपको उम्मीद है कि वो अगले साल विश्व कप में खेलते नजर आ सकते हैं।

यॉर्कर किंग का प्रदर्शन –

श्रीलंकाई मीडियम पेस बॉलर लसिथ मलिंगा के बारे में भी यही सवाल पूछे जा रहे हैं। आपको बता दें अंतरराष्ट्रीय टी20 (T20Is) में वे सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले गेंदबाज हैं। उनके नाम इस क्रिकेट में 107 विकेट दर्ज हैं।

लंका लॉयन का मन - लसिथ मलिंगा ने पहले घोषणा की थी कि वह 2020 विश्व कप के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट खेलना छोड़ देंगे। ऐसे में सवाल उठता है कि क्रिकेट टूर्नामेंट्स में हाल ही में हुए बदलावों से क्या लंका लॉयन भी रिटायरमेंट का अपना निर्णय बदलेंगे?

सनद रहे अगले साल आयोजन तक वे 38 साल की आयु तक पहुंच चुके होंगे। मलिंगा को चुनौती देने वाले के बारे में जानें इस आर्टिकल में - कौन हैं पथिराना जिनसे ब्रेटली, अख़्तर, मलिंगा को मिली चुनौती?

द सिलिंगा - यॉर्कर किंग के प्रदर्शन के लिहाज से पिछला साल बहुत अच्छा रहा। आईपीएल के पिछले सत्र में उनकी दमदार डिलेवरी द सिलिंगा की बदौलत मुंबई इंडियन्स ने फिर से खिताब पर कब्जा जमाया। इस आर्टिकल पर क्लिक करके पढ़ें धाकड़ गेंदबाज की कहानी - मणिपुर की नायाब "मणि" वो बॉलर, जिसे है 10 विकेट लेने की आदत!

पिछले साल सितंबर 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ मलिंगा ने चार गेंदों पर चार विकेट झटककर अपनी काबलियत का लोहा भी मनवाया। इनके लिये फिटनेस चिंता का विषय हो सकती लेकिन फॉर्म नहीं।

वेस्ट इंडीज के दो दिग्गज -

वेस्ट इंडीज के दो खिलाड़ियों की गिनती दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित टी20 खिलाड़ियों में होती है। पहले नंबर पर आते हैं।

मास्टर स्टॉर्म “दि गेल” – वेस्ट इंडीज के दाएं हाथ के धाकड़ बल्लेबाज क्रिस गेल भी मौजूदा स्थिति में असमंजस के दोराहे पर खड़े नजर आते हैं।

गेल की भूमिका! - कहना गलत नहीं होगा टी 20 सर्किट में क्रिस गेल सबसे अधिक पहचाना जाने वाला अंतरराष्ट्रीय चेहरा हैं। वे भी आयु वर्ष 40-41 के दौर में हैं। ऐसे में फटाफट क्रिकेट में उनकी भूमिका भी चर्चा का मुद्दा हो सकती है।

गेलफोर्स को मौका – गेलफोर्स यानी क्रिस गेल ने अपने क्रिकेटिंग करियर को फिलहाल विस्तार देने का मन जताया है। ऐसे में वे भाग्यशाली कहे जा सकते हैं क्योंकि उनको क्रिकेट में बने रहने के लिए अगले साल तक का समय और मिल गया है।

टीम में चुनौती - वेस्टइंडियन क्रिकेट टीम में कई प्रतिभाशाली युवाओं ने प्रदर्शन से प्रभावित किया है। ऐसी दशा में उनको अपना स्थान बरकरार रखने के लिए टीम में ही चुनौती मिल सकती है।

मास्टर स्टॉर्म के नाम से मशहूर गेल को अगले विश्वकप तक के लिए बेहतर फॉर्म, भाग्य और फिटनेस की खास दरकार रहेगी। इसके बाद वेस्ट इंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी का नंबर आता है और वे हैं....

द चैंपियन - गेल की टीम के ही साथी खिलाड़ी द चैंपियन के नाम से मशहूर बेहतरीन ऑल राउंडर ड्वेन ब्रावो का करियर भी शंका के घेरे में है।

डीजे ब्रावो की गूंज - इस साल होने वाले आईपीएल और टी20 विश्वकप के आगे खिसकने से मैदान में डीजे ब्रावो की गूंज फिलहाल नहीं सुनी जा सकेगी।

जॉनी की वापसी - वे एक दफा रिटायरमेंट ले चुके हैं। साथी खिलाड़ियों में जॉनी के नाम से मशहूर द चैंपियन ड्वेन ब्रावो ने वापसी के बाद 7.15 की औसत से मात्र 7 विकेट झटके हैं।

अब विषम स्थिति - इस साल आईपीएल और सीपीएल के रास्ते उनकी टीम में वापसी की चर्चा प्रबल थी। लेकिन देखना दिलचस्प होगा कि कोरोना वायरस महामारी से उपजी विषम स्थिति से द चैंपियन कैसे निपटता है।

वापसी की राह - नेशनल टीम में वापसी के लिए ब्रावो को अधिक से अधिक फ्रेंचाइजी क्रिकेट में हाथ आजमाने होंगे। ऐसे में उम्मीद है दमदार प्रदर्शन के बूते उनकी टीम में एंट्री के लिए मैनेजमेंट कोई खिड़की खोले।

पाकिस्तानियों के हाल –

पाकिस्तान में भी दो खिलाड़ी हैं जिन्हें अब चुका हुआ कहा जा रहा है। दरअसल मोहम्मद हफीज और शोएब मलिक की पाकिस्तानी जोड़ी से उम्मीद की जा रही थी कि वे आस्ट्रेलिया में प्रदर्शन में निखार की नई इबारत लिखेंगे। पाकिस्तानी ऑलराउंडर क्यों हुआ था निलंबित जानने पढ़ें - ऑलराउंडर से पाकिस्तान फिर शर्मसार, ECB ने किया निलंबित

मोहम्मद हफीज - हफीज इस साल अक्टूबर में 40 साल के होने वाले हैं। उन्होंने कहा था कि अगर टूर्नामेंट को पुनर्निर्धारित किया जाता है, तो वह अपने रिटायरमेंट प्लान को भी आगे खिसका सकते हैं।

निर्णय कितना जायज - उनके मुताबिक वे अभी वापसी कर सकते हैं। हालांकि फिर सवाल उठते हैं कि ऐसी दशा में क्या वे पाकिस्तानी टीम की योजनाओं में फिट बैठ पाएंगे। साथ ही ऐसा करना कितना जायज होगा।

शोएब मलिक - कमोबेश यही सूरत-ए-हाल शोएब मलिक का भी है। कई बार टीम से अंदर-बाहर किये जा चुके मलिक अगली फरवरी में 39 साल के हो जाएंगे।

ये भी टीम के प्लान में कितना फिट रहेंगे और एक साल तक कितना बेहतर प्रदर्शन करते हैं फिलहाल यह भी एक अबूझ पहेली है।

वापसी दोनों के लिए कठिन - टीम में प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के उदय के बाद से दोनों दिग्गजों की कमी किसी को नहीं खल रही। मतलब कोई चमत्कार नहीं होता तो इनका टीम में वापसी करना लगभग कठिन है।

दक्षिण अफ्रीकी दिग्गज -

दक्षिण अफ्रीका के दो खतरनाक खिलाड़ियों के लिए आगे का रास्ता कठिनाई भरा हो गया है। फाफ डु प्लेसिस और एबी डिविलियर्स भी टी 20 विश्व कप खेलने के इच्छुक हैं। दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड की परेशानी जानने पढ़ें- क्यों देश छोड़ रहे दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर्स?

डु प्लेसिस - फाफ डु प्लेसिस ने टी20 विश्व कप के अंत तक टीम की कप्तानी करने की इच्छा जताई थी। लेकिन यह बात बहुत पुरानी है। उनके इस बयान के बाद से क्विंटन डी कॉक ने टीम की बागडोर भली तरह संभाल ली है। अनोखे रिकॉर्ड जिनसे रिकॉर्ड हुआ खराब जानने पढ़ें - डार्लिंग के बाद मोमिनुल से पहले इतने कप्तान हुए बदनाम

उम्र और टीम प्लान - अगले विश्व कप शुरू होने तक डु प्लेसिस 37 साल के हो जाएंगे। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि टीम मैनेजमेंट भविष्य की टीम के मद्देनजर शायद ही उनको टीम की कमान सौंपकर डु प्लेसिस के सपने को पूरा करने की भूल करे। गौरतलब है टीम में कई युवा चेहरे दमदार प्रदर्शन कर रहे हैं।

मिस्टर 360 डिग्री - मैदान में चारों ओर बल्ले से शॉट मारने के लिए मशहूर मिस्टर 360 डिग्री यानी एबी डिविलियर्स का करियर इस दफा सवालों के घेरे में है। दरअसल कोरोना वायरस महामारी के कारण किसी भी मैदान में एंट्री न मिलने से उनको किसी एंगल का शॉट मारने नहीं मिल पाया।

सुपरमैन ऑफ क्रिकेट - इनकी वापसी की चर्चा जरूर जोरों पर है। फिर ऐसे में एबीडी को फिलहाल टलते क्रिकेट टूर्नामेंट्स के कारण अपना सर्वस्व झौंकना होगा। राष्ट्रीय टीम में वापसी के लिए अब जो भी मौके मिलें उनमें फ्रैंचाइजी के साथ मिलकर उनको सुपरमैन ऑफ क्रिकेट वाली अपनी पहचान साबित करनी होगी।

आयु नहीं, खुद की चाहत - सुपरमैन ऑफ क्रिकेट की फिटनेस पर कभी भी सवाल नहीं उठा। अगले साल तक वे 37 साल की आयु में प्रवेश कर जाएंगे। लेकिन ऐसे में यह अब खुद उनको तय करना है कि इंटरनेशनल लेवल क्रिकेट में वापसी करने के लिए वो कितने इच्छुक हैं।

डिस्क्लेमर – आर्टिकल प्रचलित रिपोर्ट्स पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co